• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Lalji Tandon Death LIVE Updates Madhya Pradesh Governor Lalji Tandon passes away his son Ashutosh Tandon announces his demise

दैनिक भास्कर हिंदी: निधन: नहीं रहे मप्र के राज्यपाल लालजी टंडन, लखनऊ में ली आखिरी सांस, पीएम मोदी ने जताया दुख, यूपी में 3 दिन का राजकीय शोक

July 21st, 2020

हाईलाइट

  • मध्य प्रदेश के गवर्नर लालजी टंडन का निधन
  • लखनऊ के मेदांता अस्पताल में थे भर्ती

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का आज मंगलवार सुबह निधन हो गया। 85 वर्षीय लालजी टंडन लंबे समय से बीमार चल रहे थे और उनका इलाज लखनऊ के मेदांता अस्पताल में चल रहा था। लालजी टंडन के निधन की पुष्टि उनके बेटे और यूपी सरकार में मंत्री आशुतोष टंडन ने की। उन्होंने ट्वीट कर कहा, बाबूजी नहीं रहे।

जून से ही अस्पताल में भर्ती थे लालजी टंडन 
सोमवार को उनकी हालत नाजुक थी। मेदांता अस्पताल की तरफ से जारी मेडिकल बुलेटिन में उनकी हालत नाजुक होने की बात कही गई थी। गंभीर स्थिति के चलते लालजी टंडन को वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था। दरअसल बीते 11 जून को मेदांता अस्पताल में भर्ती हुए लालजी टंडन की तबीयत 15 जून को अधिक बिगड़ गई थी। पेट में ब्लीडिंग होने पर उनका ऑपरेशन भी किया गया था। इसके बाद से वह लगातार वेंटिलेटर पर थे। मेदांता के निदेशक डॉ. राकेश कपूर ने बताया था, उनकी तबीयत ज्यादा गंभीर है। उन्हें फुल सपोर्ट पर रखा गया था।

2018 में बिहार के राज्यपाल बने थे लालजी टंडन  
गौरतलब है कि, उत्तर प्रदेश की राजनीति में सक्रिय रहने वाले टंडन प्रदेश की भाजपा सरकारों में कई बार मंत्री भी रहे हैं। अटल बिहारी वाजपेयी के सहयोगी के रूप में जाने जाते रहे हैं। टंडन ने वाजपेयी के चुनाव क्षेत्र लखनऊ की कमान संभाली थी और लखनऊ से ही 15वीं लोकसभा के लिए भी चुने गए। लालजी टंडन को 2018 में बिहार का गवर्नर बनाया गया। इसके बाद 2019 में उन्हें मध्य प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया गया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जताया दुख
राज्यपाल टंडन के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है। पीएम ने ट्वीट कर कहा, लालजी टंडन को समाज की सेवा के उनके अथक प्रयासों के लिए याद किया जाएगा। उन्होंने उत्तर प्रदेश में भाजपा को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने एक प्रभावी प्रशासक के रूप में अपनी पहचान बनाई और हमेशा लोक कल्याण को महत्व दिया। उनके निधन से मैं दुखी हूं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शोक व्यक्त करते हुए कहा, राज्यपाल टंडन के निधन से देश ने एक लोकप्रिय जननेता,योग्य प्रशासक एवं प्रखर समाज सेवी को खोया है। वे लखनऊ के प्राण थे।
ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शान्ति के लिए प्रार्थना करता हूं। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिजनों के साथ हैं। योगी सरकार ने टंडन के निधन पर तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दुख व्यक्त करते हुए कहा, मध्यप्रदेश के राज्यपाल रहते हुए टंडनजी ने हमें सदैव सन्मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित किया। राष्ट्र के प्रति उनके प्रेम और प्रगति हेतु योगदान को चिरकाल तक याद रखा जाएगा। वे अब हमारे बीच नहीं हैं लेकिन अपने सुविचारों द्वारा वे हमारी स्मृतियों में हमेशा जीवित रहेंगे।