दैनिक भास्कर हिंदी: चीन से नागपुर के लिए निकली मेट्रो हो रही लेट, अब जनवरी में पहुंचेगी

December 13th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। नवंबर माह में चीन से नागपुर के लिए रवाना हुई  मेट्रो ट्रेनें नागपुर में विलंब से पहुंचेंगी। समुद्री मार्ग से इन दोनों गाड़ियों का दिसंबर माह में पहुंचना अपेक्षित था। लेकिन जहाज नहीं मिलने के कारण गाड़ियां 10 जनवरी को पहुंचेंगी। आने वाले समय में बड़ी संख्या में चीन से नागपुर के लिए कोच आनेवाले हैं, लेकिन पहली बार में ही जहाज का नहीं मिलना आने वाले समय में मेट्रो रेल को समुद्री मार्ग से लाने के दौरान आनेवाली दिक्कतों को बयां कर रहा है।

उल्लेखनीय है कि आनेवाले 6 महीनों में नागपुर में मेट्रो रेल चलाने का लक्ष्य विभाग ने सामने रखा है। वर्ष 2019 मार्च माह के आखिर तक रीच-1 व री-3 यानी सीताबर्डी से खापरी व हिंगणा के बीच मेट्रो रेल दौड़ाई जाएगी। जिसका फायदा आम यात्री ले सकेगा। इसी दिशा में तेजी से काम करते हुए कुल 69 कोच बनाने का ऑर्डर चीन को दिया गया है। इसमें दो मेट्रो यानी कुल 6 कोच दौड़ने के लिए तैयार हो गई है। पहली बार चीन से नागपुर के लिए यह गाड़ियां आ रही हैं।

नवंबर में ही समुद्री मार्ग से कुल 6 कोच को नागपुर के लिए रवाना किया गया। जिसे दिसंबर के 10 तारीख तक आ जाना चाहिए था, लेकिन अभी तक कोच नागपुर नहीं आ सके हैं। जिसका मुख्य कारण यह है कि इन कोच को समुद्री मार्ग से चैन्नई तक लाना है, लेकिन इसके लिए जहाज ही नहीं मिल रहा है। जिसके कारण अभी भी कोच चीन में ही अटके हैं। ऐसे में मेट्रो इसे 10 जनवरी तक नागपुर में पहुंचने की उम्मीद कर रहे हैं। नागपुर मेट्रो के और 69 कोच यही से नागपुर लाने हैं। जो जनवरी माह से जुलाई माह तक आते रहेंगे। ऐसे में हर बार इसी तरह यदि कोच लाने के लिए परेशानी हुई तो आनेवाली स्थिति का अंदाजा लगाया जा सकता है। एक कोच की कीमत 8 करोड़ 2 लाख रुपये हैं। जो पूरे दुनिया में सबसे सस्ता कोच नागपुर मेट्रो का बनाने का दावा प्रशासन कर रही है। इस संदर्भ में महामेट्रो के निदेशक बृजेश दीक्षित का कहना है कि 10 जनवरी तक नागपुर में कोच पहुंच जाएंगे, जहाज नहीं मिलने से कोच नागपुर में नहीं पहुंच सके हैं।