दैनिक भास्कर हिंदी: मध्य प्रदेश: 12 जनवरी को जबलपुर आएंगे अमित शाह, समझाएंगे CAA का मतलब

January 2nd, 2020

हाईलाइट

  • CAA और NRC के लिए भाजपा का जागरूकता अभियान जारी
  • अमित शाह जबलपुर के लोगों को गिनाएंगे CAA के फायदे

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। संसद से 11 दिसंबर को नागरिकता संशोधन बिल पारित होने के बाद से देशभर में कोहराम मचा हुआ है। इस बिल के और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) के खिलाफ फैलाए जा रहे दुष्प्रचार पर भाजपा के कई दिग्गज नेता लोगों को जागरूक करने के लिए देशभर में जनसभाएं कर रहे हैं। इसी बीच अब केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी 12 जनवरी को जबलपुर के आम लोगों को CAA और NRC के फायदे समझाने पहुंचेंगे। इस बात की जानकारी बुधवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने दी।

पार्टी प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि 'कांग्रेस पूरे देश में CAA और NRC को लेकर दुष्प्रचार कर रही है। भाजपा ने यह तय किया है कि पार्टी पूरे देश में इस कानून की सच्चाई जनता को बताएगी। इसी कड़ी में अमित शाह 12 जनवरी को जबलपुर आ रहे हैं। उन्होंने बताया कि अमित शाह एक जनसभा में CAA और NRC पर जनता से संवाद करेंगे।'

क्या है CAA?
CAA वह अधिनियम है, जो पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश जैसे इस्लामिक देशों में प्रताड़ित किए गए गैर मुसलमानों को पनाह देगा। अधिनियम के मुताबिक 31 दिसंबर 2014 को या उससे पहले जिन भी हिंदुओं, सिखों, जैनों, पारसियों, बौद्धों और ईसाईयों ने पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से धार्मिक उत्पीड़न के कारण भारत की पनाह ली हैं, उन्हें भारत की नागरिकता प्रदान की जाएगी।