अकोला: मनपा का जलप्रदाय विभाग आक्रामक, 40 करोड़ से अधिक की बकाया की चुनौती

May 19th, 2022

डिजिटल डेस्क, अकोला। महानगरपालिका क्षेत्र में विगत कुछ वर्षों से जलकर के बिल नियमित वितरित नहीं हो पा रहे है। इस कारण वसूली भी लटकी रही, जिससे बकाया का आंकड़ा 40 करोड़ रूपए तक पहुंचा। इस बकाया वसूली के लिए अब मनपा के जलप्रदाय विभाग ने कड़ाई बरतना शुरू किया है। जिन्होंने बिल नहीं भरा उनके नल कनेक्शन काटने की सख्त कार्रवाई की जा रही है। बुधवार को 50 हजार के जलकर के लिए 5 कनेक्शन काटे गए, जिससे बकायाधारकों में हड़कम्प मचा। अकोला शहर में डेढ़ लाख संपत्तिधारक है, लेकिन वैध नल कनेक्शनों की संख्या 65 हजार तक ही सीमित है। इस कारण हर वर्ष जलकर के रूप में मनपा को बड़ी मुश्किल से 12 से 15 करोड़ ही आय अपेक्षित होती है। अगर वैध कनेक्शनों का आंकड़ा बढ़ेगा तो वसूली का लक्ष्य भी 20 करोड़ से ऊपर जा सकता है, लेकिन मनपा का जलप्रदाय विभाग कुछ वर्षों से बकाया जलकर की वसूली नहीं कर पाया है। कोरोना संकट तथा बिल वितरण ठेका न दिए जाने से नागरिकों को बिल नहीं मिल पाए थे। बीच-बीच में बिलों का वितरण हुआ, लेकिन अधिकतर बिल गलत थे। अब फिर से बिल वितरण ने जोर पकड़ा है।

दूसरी तरफ जलप्रदाय विभाग ने बकाया भुगतान न करनेवालों के कनेक्शन काटने भी आरंभ कर दिए है। बुधवार को जठारपेठ परिसर के अजिंक्य अपार्टमेंट के 5 नल कनेक्शन खंडित किए गए, जिन पर सन 2017 से 50 हजार रूपए जलकर बकाया था। इस कार्रवाई को जलप्रदाय विभाग के कार्यकारी अभियंता एच. जी. ताठे, कनिष्ठ अभियंता निवृत्ति दातकर, संजय पाटील, सुबोध वानखडे, अंकुश राठोड आदि ने अंजाम दिया।