अकोला: मानसेवी कर्मचारियों को नोटिस, ठेका तत्व पर नियुक्ति की तैयारी

November 24th, 2022

डिजिटल डेस्क, अकोला. महानगरपालिका में 113 मानसेवी कर्मचारियों को हर छह माह बाद कार्यकाल बढ़ाकर नियुक्ति दी जाती थी। इस बार नियुक्ति आदेश रोककर मनपा प्रशासन ने सभी मानसेवियों को ठेका तत्व पर नियुक्त करने की तैयारी शुरू कर दी है, जिससे पिछले 20-22 वर्षों से मानसेवी के तौर पर सेवा दे रहे कर्मचारियों को झटका लगा है। सभी कर्मचारियों को सामान्य प्रशासन विभाग से नोटिस मिली है, जिसमें सात दिन के भीतर ठेका तत्व पर नियुक्ति पाने सम्मतिपत्र मांगा गया है। अन्यथा सेवा समाप्त करने की चेतावनी दी गई है। 

महानगरपालिका का अधिकतर कामकाज मानसेवी कर्मचारियों के भरोसे चलता है। कई विभाग ऐसे है, जिनका पूरा कामकाज मानसेवी ही संभाल रहे है। कर्मचारियों को उम्मीद थी की उन्हें एक दिन स्थायी तौर पर नियुक्ति मिलेगी, लेकिन अंतत: उनकी उम्मीदों पर पानी फिर गया है। 27 अक्टूबर 2022 को 113 मानसेवी कर्मचारियों का कार्यकाल खत्म हुआ, तब से उन्हें ठेका तत्व पर नियुक्ति देने सामान्य प्रशासन विभाग में हलचल चल रही थी। अब उस पर मुहर लग गई है। मनपा आयुक्त ने 112 कर्मचारियों को 27 नवंबर तक याने एक माह के लिए नियुक्ति आदेश दिए है, लेकिन इसके बाद सभी कर्मचारियों को ठेका तत्व पर ही काम करना पड़ेगा। इस संदर्भ में मनपा ने सभी मानसेवियों को नोटिस जारी की है। प्रशासन अनुसार शासन के नगर विकास विभाग ने सन 2015 में मनपा का आस्थापना खर्च कम करने चरणबध्द तरीके से मानसेवियों की संख्या घटाने के आदेश दिए थे। इस कारण मानसेवियों को कम करने का विचार प्रशासन की आेर से किया जा रहा था। कर्मचारियों का नुकसान न हो इसलिए उन्हें सेवा से न हटाते हुए ठेका तत्व पर सेवा में लेने का निर्णय प्रशासन ने लिया है। जिन कर्मचारियों को ठेका तत्व पर काम करना है वे सात दिन के भीतर सामान्य प्रशासन विभाग के पास सम्मति पत्र दे। एेसा न करने पर संबंधित कर्मचारी की सेवा समाप्त की जाएगी। प्रशासन के इस अल्टीमेटम से मानसेवियों में हड़कम्प मच गया है।