comScore

सरप्लस है बिजली, नहीं होनी चाहिए कटौती - जिले के प्रभारी मंत्री 

सरप्लस है बिजली, नहीं होनी चाहिए कटौती - जिले के प्रभारी मंत्री 

 डिजिटल डेस्क सतना। प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं जिले के प्रभारी मंत्री लखन घनघोरिया ने गुरूवार को यहां जिला योजना समिति की बैठक में विद्युत कंपनी के अधिकारियों को दो टूक चेतावनी दी कि प्रदेश में बिजली सरप्लस है, ऐसे में कटौती नहीं होनी चाहिए। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि जिले के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली की सतत आपूर्ति सुनिश्चित होनी चाहिए। श्री घनघोरिया ने कहा कि विद्युत कंपनी के अधिकारी सतत मॉनीटरिंग करें। 
 विद्युतीकरण की जांच करें कलेक्टर 
जिले के प्रभारी मंत्री श्री घनघोरिया ने इस बात पर सख्त नाराजगी जताई कि 3 हार्स पावर के पम्प कनेक्शनों पर 5 हार्स पावर के बिजली बिल दिए जाने की शिकायतें मिल रही हैं। उन्होंने कहा कि शिविर लगाकर बिजली के बिलों को सुधारा जाए। प्रदेश के सामाजिक न्याय मंत्री ने कलेक्टर डा.सतेन्द्र सिंह को निर्देशित किया कि वे सौभाग्य योजना के तहत कराए गए विद्युतीकरण की जांच करें। प्रभारी मंत्री ने अन्य विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे जनप्रतिनिधियों के सतत संपर्क में रहें और समय पर समस्याओं को उचित समाधान करें। श्री घनघोरिया ने माना कि अतिवृष्टि से किसानों की फसलों की क्षति हुई है। किसानों को राहत दिलाने में कोई कसर नहीं रहनी चाहिए। 
 ये भी थे उपस्थित 
बैठक में विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा, नीलांशु चतुर्वेदी, रामलखन पटेल, मेयर ममता पांडेय, कलेक्टर डा.सतेन्द्र सिंह, एसपी रियाज इकबाल, जिला पंचायत की सीईओ ऋजु बाफना, निगमायुक्त अमनवीर सिंह और जिला योजना अधिकारी राजेश कछवाह भी उपस्थित थे।  बैठक में कलेक्टर ने भी सभी अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों के संपर्क में रह कर समस्याओं के समाधान के निर्देश दिए। 
इन पर भी चर्चा 
बैठक में गौशालाओं की स्वीकृति,  रख-रखाव, नलजल योजना, हैंडपंपों के खनन और मेंटीनेंस नए पशु औषधालय और चिकित्सकों की नियुक्ति, यूरिया एवं डीएपी तथा बीज वितरण, शिक्षकों के स्थानांतरण में संशोधन तथा सुधार, नहरों पर सड़क निर्माण एवं नए उप स्वास्थ्य केंद्र स्थापित करने पर भी चर्चा हुई।  
 

कमेंट करें
qk3dj