comScore

शराब के नशे  में मित्र ने ही पत्थर से कुचलकर कर दी हत्या, नशे की लत से परेशान था परिवार 

शराब के नशे  में मित्र ने ही पत्थर से कुचलकर कर दी हत्या, नशे की लत से परेशान था परिवार 

डिजिटल डेस्क, अकोला। डाबकी रोड पुलिस थाने के अंतर्गत आने वाले श्रीराम टॉवर के पास स्थित नर्मदा काम्पलेक्स के पास एक 55 वर्षीय व्यक्ति गंभीर रूप से घायल पड़ा हुआ है ऐसी जानकारी बुधवार की रात गस्त लगा रहे पुलिस निरीक्षक नाफडे को मिली। जिससे वह अपने सहयोगियों के साथ तत्काल घटनास्थल पर पहुंचे। जांच के दौरान घायल व्यक्ति में किसी प्रकार की हलचल दिखाई न दिए जाने के कारण उसकी मौत हो चुकी है इसका अंदेशा पुलिस को आ गया था। डाबकी रोड पर हुई वारदात की जानकारी मिलते ही शहर उपविभागीय पुलिस अधिकारी सचिन कदम भी दल बल के साथ पहुंच गए। पुलिस ने कागजी कारवाई पूरी करने के पश्चात लाश को अस्पताल भेजा। पुलिस की जांच में मृतक की पहचान नंदाने मंगल कार्यालय परिसर निवासी राजेश सुधाकर पिंपले के रूप में हुई। नागरिकों ने बताया कि वह मजदूरी कर अपना गुजारा किया करता था किंतु उसे शराब की लत लगी हुई थी। इसलिए उसका परिवार उससे अलग रहता था। देर रात को उसका हमेशा का मित्र नंवनाथ उसके साथ था। यह जानकारी मिलते ही पुलिस ने उसके मित्र को हिरासत में ले लिया। पुलिस ने फिलहाल आकस्मिक मौत का मामला दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है।

मृतक को परिवार ने छोड़ दिया था 

मृतक राजेश पिंपले को शराब पीने की बुरी लत लग गई थी। उसकी इस आदत से उसकी पत्नी ने 15 वर्ष पूर्व ही उसे छोड़ दिया था। जिससे वह अपने बेटे के साथ रहता था किंतु बेटा भी काफी परेशान हो जाने के कारण वह भी अलग रहता था। पिता की हत्या हो जाने के बाद थाने पहुंचे बेटे तथा परिजनों के माथे पर किसी प्रकार की शिकन दिखाई नहीं दे रही थी। जिससे थाने में मौजूद लोगों ने अंदाजा लगाया कि मृतक की आदत से पूरा परिवार काफी परेशान रहता था। 

मजदूर के पास मंहगी शराब 

घटना की जानकारी मिलते ही मौका ए वारदात पर पहुंची पुलिस को  वहां पर तकरीबन 70 प्रतिशत शराब की एक विदेशी बोतल भरी हुई दिखाई दी। उक्त शराब विदेशी होने के साथ काफी महंगी थी। पुलिस यह देखकर अचंभित रह गई कि एक मजदूर के पास इतनी मंहगी शराब की बोतल आई कहां से, यदि मृतक को विदेशी शराब पीने की आदत थी तो वह मजदूरी के रूपयों में कैसे तालमेल बैठाता था? आखिरकार घटनास्थल पर ऐसा क्या हुआ जिससे उसके सहयोगी ने ही उस पर हमला कर दिया ? ऐसे कई सवाल है जिनके जवाब पुलिस तलाश रही है।

 संदिग्ध मानसिक रूप से बीमार 

पुलिस सूत्रों का कहना है कि मृतक के साथ रहने वाला संदिग्ध हत्यारा नवनाथ भी शराब पीने का आदि था। दोनों की इस आदत के कारण पूरा परिसर परेशान था। शराब पीने के बाद नवनाथ  की मानसिक स्थिति ठीक नहीं रहती थी। नशे में टुन्न होने के बाद अपने में ही बतियाते रहता था, पुलिस का अनुमान है कि शराब पीने के बाद दोनों के बीच किसी बात को लेकर विवाद हुआ  होगा जिसके बाद यह घटना घटी। 

कमेंट करें
cdwbm