comScore

भीमा कोरेगांव : अकोला में भी विरोध प्रदर्शन के दौरान आंदोलनकारियों ने की तोडफ़ोड़ 

January 03rd, 2018 22:25 IST
भीमा कोरेगांव : अकोला में भी विरोध प्रदर्शन के दौरान आंदोलनकारियों ने की तोडफ़ोड़ 

डिजिटल डेस्क, अकोला। भीमा कोरेगांव में घटी घटना के बाद राज्य में इसका तीव्र प्रतिक्रिया दिखाई दी। भारिप बमसं के राष्ट्रीय नेता एड.प्रकाश आंबेडकर ने बुधवार को महाराष्ट्र बंद का आवाहन किया था। जिसके बाद  भी अकोला के स्थानीय प्रशासन द्वारा किसी प्रकार का इंतजाम नहीं किया था। जिसका परिणाम जिले में तोडफ़ोड़ की घटना के साथ दिखाई दिया। अकोला शहर में सुबह से दुपहिया वाहनों पर निकले प्रदर्शनकारियों ने व्यापारियों की दुकानें जबरन बंद करवाईं। वहीं कुछ उत्पाती युवकों ने बंद दुकानों पर पथराव करते हुए वाहनों की बड़ी संख्या में तोडफ़ोड़ की।

शहर के खदान पुलिस थाने की सीमा में आने वाली दुकानों के साथ ही नागरिकों के वाहन, घरों के शीशे चकनाचूर कर दिए गए। उत्पाती युवकों ने निजी वाहनों समेत अकोट फैल पुलिस थाने के सरकारी वाहन को भी निशाना बनाते हुए तोडफ़ोड़ की। सरकारी गोदाम के पास स्थित भारतीय स्टेट बैंक की एटीएम को निशाना बनाते हुए लूटने का प्रयास किया गया। इन घटनाओं के दौरान पुलिस केवल मूकदर्शक बनी रही। जिससे अकोला शहर में पुलिस प्रशासन है या नहीं इसको लेकर भी नागरिकों में चर्चा रही? देर शाम एड.प्रकाश आंबेडकर द्वारा आंदोलन को वापस लिए जाने की घोषणा के पश्चात शहर में कुछ दुकानें आंशिक रूप से खोली गईं किंतु अधिकतर बाजार बंद रहे।

एस.टी बसें बंद रहने के कारण बस स्थानक पर सन्नाटा रहा, शासकीय कार्यालय खुले लेकिन वहां उपस्थिति नगण्य रही एहतियात के तौर पर शहर व जिले की बैंकों में आधा शटर गिराकर कामकाज हुआ।  सभी पेट्रोल पंप बंद रहने के कारण वाहन चालकों को भारी असुविधा झेलनी पड़ी। जिलाधीश द्वारा शालाओं में अवकाश घोषित किए जाने के कारण सभी शालाएं बंद रही कई सालों के अंतराल के बाद अकोला में आज पूरी तरह से बंद रहा।

कमेंट करें
mP3NF