comScore

हरतालिका तीज व्रत: दो अलग तिथियों में होगा व्रत, जानें शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

हरतालिका तीज व्रत: दो अलग तिथियों में होगा व्रत, जानें शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

डिजिटल डेस्क। भादो माह की शुक्‍ल पक्ष तृतीया को हरतालिका तीज का पर्व मनाया जाता है। हरियाली तीज, कजरी तीज और करवा चौथ की तरह ही हरतालिका तीज भी सुहागिनों का व्रत है। यह व्रत पति की लंबी उम्र और मंगल कामना के लिए रखा जाता है। इस दौरान महिलाएं निर्जला व्रत रखकर माता गौरी और भगवान भोले नाथ की आराधना करती हैं। हालांकि कई अविवाहित कन्या भी इक्षित वर को प्राप्त करने के लिए यह व्रत करती हैं।

इस बार जन्‍माष्‍टमी की ही तरह हरतालिका तीज की तिथि को लेकरक असमंजस की स्थिति बन गई है। कुछ ज्योतिषों के अनुसार यह व्रत 1 सितंबर को होगा, वहीं कुछ 2 सितंबर को व्रत होने की बात कह रहे हैं। 

तिथ‍ि और शुभ मुहूर्त 
1 सितंबर को सूर्योदय द्वितीया तिथि में होगा जो 8 बजकर 27 मिनट पर समाप्त हो जाएगी। इसके बाद से तृतीया यानी तीज शुरू हो जाएगी और अगले दिन यानी 2 सितंबर को सूर्योदय से पूर्व ही सुबह 4 बजकर 57 मिनट पर तृतीया समाप्त होकर चतुर्थी शुरू हो जाएगी। ऐसे में जो व्रती 1 सितंबर को हरतालिका तीज का व्रत रख रहे हैं उनके लिए पूजन का शुभ मुहूर्त शाम में 6 बजकर 15 मिनट से 8 बजकर 58 मिनट तक है। जबकि 2 सितंबर को व्रत रखने वालों को सूर्योदय से 2 घंटे के अंदर ही तीज का पूजन कर लेना होगा। इनके पूजन का शुभ मुहूर्त सुबह 8 बजकर 58 मिनट तक है।

कमेंट करें
4yko2