comScore

रोक का फैसला स्थगित होने से Huawei को मिली राहत, जानें ट्रंप प्रशासन का फैसला

रोक का फैसला स्थगित होने से Huawei को मिली राहत, जानें ट्रंप प्रशासन का फैसला

हाईलाइट

  • Huawei मौजूदा लाइसेंस के साथ अपनी सेवाओं के लिए पहले की तरह काम कर सकेगी
  • अमेरिका वाणिज्य विभाग Huawei को अमेरिका में बने सामान खरीदने की अनुमति देगा
  • Huawei मौजूदा हैंडसेट्स के लिए सॉफ्टवेयर अपडेट्स और मौजूदा सेवाएं जारी रख सकेगी

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। अमेरिका के अधिकारियों ने चीनी कंपनी Huawei पर लगाई गई रोक के फैसले को 90 दिन के लिए स्थगित कर दिया है। जिसमें कहा गया था कि अमेरिका की कंपनियां अब चाइनीज टेक कंपनी हुवावे के साथ बिजनेस नहीं कर सकतीं। आपको बता दें कि अमेरिकी दिग्गज कंपनी Google ने चाइनीज स्मार्टफोन मेकर कंपनी Huawei का एंड्रॉइड लाइसेंस कैंसल कर दिया है। लाइसेंस कैंसल की बड़ी वजह अमेरिका द्वारा Huawei को एनटिटी लिस्ट में शामिल करना है, फिलहाल नए फैसले के बाद Huawei को राहत मिली है। अब कहा गया है कि कंपनी मौजूदा लाइसेंस के साथ अपनी सेवाओं के लिए पहले की तरह काम कर सकेगी।

अपडेट्स और मौजूदा सेवाएं
ए​क रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका वाणिज्य विभाग 'हुवावे टेक्नॉलजीस कॉर्पोरेट लिमिटेड को अमेरिका में बने सामान खरीदने की अनुमति देगा, जिससे कंपनी मौजूदा हैंडसेट्स के लिए सॉफ्टवेयर अपडेट्स और मौजूदा सेवाएं जारी रख सके।' हालांकि, किसी नए प्रॉडक्ट के लिए कंपनी अब भी बिना लाइसेंस को मंजूरी मिले अमेरिका में बने पार्ट्स या बाकी सेवाएं नहीं खरीद सकती। 

दूसरी व्यवस्था करने का समय
रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका वाणिज्य मंत्री विल्बर रॉस ने कहा कि ‘‘अस्थाई सामान्य लाइसेंस से ऑपरेटरों को व्यवसाय जारी रखने के लिए दूसरी व्यवस्था करने का समय मिल जाता है और विभाग जरूरी सेवाओं के लिए हुआवे के उपकरणों पर निर्भर अमेरिकी और विदेशी दूरसंचार कंपनियों के लिए उपयुक्त दीर्घकालिक उपाय कर सकेगा।’’ संक्षेप में कहा जाए तो मौजूदा लाइसेंस कंपनी के मौजूदा मोबाइल फोन यूजर्स और ब्रॉडबैंड नेटवर्क के लिए सेवाएं जारी रखने की अनुमति देता है।' यह लाइसेंस 19 अगस्त तक मान्य होगा।

फैसले में कोई बदलाव नहीं
ट्रंप प्रशासन के वाणिज्य विभाग द्वारा दी गई जानकारी में कहा गया है कि यह स्थगन अस्थाई है और इससे राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा राष्ट्रीय सुरक्षा के मद्देनजर कंपनी पर लगाई गई रोक के फैसले में कोई बदलाव नहीं आएगा। ट्रंप प्रशासन के इस फैसले से अमेरिका और चीन की प्रौद्योगिकी कंपनियों पर गहरा प्रभाव होगा। इसके बदले वह हुआवे को अस्थाई लाइसेंस प्रदान करेगा जिससे कि वह अमेरिकी कंपनियों के साथ व्यावसाय को जारी रख सकें।
 

कमेंट करें
O8UQw