दिल्ली: कैबिनेट की मंजूरी के बाद केजरीवाल ने अयोध्या को मुख्यमंत्री तीर्थ कल्याण योजना से जोड़ा

October 27th, 2021

हाईलाइट

  • कैबिनेट की मंजूरी के बाद केजरीवाल ने अयोध्या को मुख्यमंत्री तीर्थ कल्याण योजना से जोड़ा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कैबिनेट की मंजूरी के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को अयोध्या को मुख्यमंत्री तीर्थ कल्याण योजना में शामिल करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा, अयोध्या ने जगन्नाथ पुरी, उज्जैन, शिरडी, अमृतसर, जम्मू, द्वारका, मथुरा, तिरुपति, रामेश्वरम, हरिद्वार, बोधगया जैसे अन्य तीर्थ स्थलों के अलावा मुख्यमंत्री तीर्थ कल्याण योजना की सूची में जगह बनाई है। दिल्ली सरकार उन लोगों की सहायता करेगी, जो अयोध्या में रामलला के नि:शुल्क दर्शन करना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 के कारण बंद की गई योजना को एक महीने के भीतर फिर से शुरू किया जाएगा। यह घोषणा उनके अयोध्या से लौटने के बाद हुई, जहां उन्होंने सरयू घाट, हनुमान गढ़ी और राम लला का दौरा किया। मंगलवार को मंदिर का दौरा करने के बाद केजरीवाल ने कहा, मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे राम लला को नमन करने का मौका मिला और मैं चाहता हूं कि सभी को यह मौका मिले। मेरे पास जो भी क्षमता है, मैं उसका उपयोग अधिक से अधिक लोगों को यहां दर्शन कराने के लिए करूंगा। केजरीवाल ने मंगलवार शाम को कहा था कि 27 अक्टूबर को दिल्ली में कैबिनेट की विशेष बैठक होगी, जिसमें उत्तर प्रदेश के तीर्थ स्थल को मुफ्त तीर्थ यात्रा कार्यक्रम की सूची में शामिल किया जाएगा।

बता दें कि इस योजना के तहत दिल्ली के सभी ऐसे वरिष्ठ नागरिक, जो खुद यात्रा का खर्चा नहीं उठा सकते उन्हें मुफ्त में कई तीर्थ स्थलों की यात्रा कराई जाती है और उनकी यात्रा का पूरा खर्च दिल्ली सरकार उठाती है। दिल्ली सरकार की इस योजना के तहत पहले से ही कई तीर्थ स्थलों के दर्शन कराए जाते रहे हैं, हालांकि कोविड महामारी के कारण फिलहाल यह योजना रुकी हुई है, लेकिन मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना को अगले महीने फिर से शुरू किया जाएगा। इस योजना के तहत दिल्लीवासियों को एसी ट्रेनों से यात्रा और एसी होटलों में ठहरने की सुविधा भी प्रदान की जाती है, जिसका खर्च दिल्ली सरकार वहन करती है।

 

(आईएएनएस)