comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

Bihar Elections 2020: छिटपुट घटनाओं के बीच दूसरे चरण में 94 सीटों पर 54.44% मतदान, पिछली बार से 2% कम, 1463 उम्मीदवारों की किस्मत EVM में कैद

Bihar Elections 2020: छिटपुट घटनाओं के बीच दूसरे चरण में 94 सीटों पर 54.44% मतदान, पिछली बार से 2% कम, 1463 उम्मीदवारों की किस्मत EVM में कैद

डिजिटल डेस्क, पटना। बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के दूसरे चरण के तहत मंगलवार को 17 जिलों की 94 विधानसभा सीटों पर मतदान हुए। इन सीटों पर 1463 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला ईवीएम मशीन में कैद हुआ। जानकारी के अनुसार दूसरे फेज में 94 सीटों पर 54.44% वोट डाले गए। इन्हीं 94 सीटों पर 2015 में 56.17% और 2010 में 51.7% मतदान हुआ था। यानी इस बार 2010 से 3% ज्यादा और 2015 के चुनाव से 2% कम वोटिंग हुई।

हालांकि, आज हुई दूसरे फेज में वोटिंग का फाइनल आंकड़ा चुनाव आयोग एक-दो दिन में जारी करेगा। बिहार में पहले चरण में 71 सीटों पर 55.9% मतदान हुआ था। तीसरे फेज की वोटिंग 7 नवंबर को होगी। नतीजे 10 नवंबर को आएंगे। राज्य निर्वाचन आयेाग के अनुसार, प्रथम चरण में 2.85 करोड़ मतदाताओं के लिए 41,362 मतदान केंद्र बनाए गए थे। दूसरे चरण में 1,463 प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं, इनमें से 1316 पुरूष, 146 महिला और एक थर्ड जेंडर शामिल है। इस चरण के चुनाव में महाराजगंज विधानसभा क्षेत्र में सबसे अधिक 27 प्रत्याशी हैं जबकि दरौली विधानसभा क्षेत्र में सबसे कम चार प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं।

बिहार के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एच आर श्रीनिवास ने मतदान संपन्न होने के बाद पत्रकारों को बताया कि अब तक मिले आंकडों के मुताबिक दूसरे चरण में 54.05 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। उन्होंने कहा कि अभी कुछ इलाकों के आंकडे नहीं आए हैं, इस कारण इसमें कुछ परिवर्तन की संभावना है। उन्होंने बताया कि अब तक मिले आंकड़ों के मुताबिक, पश्चिमी चंपारण में 55.99 प्रतिशत, पूर्वी चंपारण में 56.75, शिवहर में 56.04, सीतामढी में 57.40, मधुबनी में 52.67, दरभंगा में 54.15, मुजफ्फरपुर में 59.98, गोपालगंज में 55.09, सीवान में 51.88, सारण में 54.15 प्रतिशत, वैशाली में 51.93, समस्तीपुर में 56.02, बेगूसराय में 58.67, खगड़िया में 56.10, भागलपुर में 54.54, नालंदा में 51.06 तथा पटना में 48.23 प्रतिशत मतदाताओं अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

राज्य निर्वाचन आयेाग के अनुसार, सुबह मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की संख्या कम थी, बाद में दिन चढ़ने के बाद मतदाताओं की संख्या बढ़ने लगी। प्रारंभ में कुछ मतादन केंद्रों पर ईवीएम खराब होने की सूचना मिली थी, जिसे तुरंत दुरूस्त कर दिया गया। इस चरण के चुनाव में मतदाताओं ने राजद के नेता तेजस्वी यादव, राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद के पुत्र और तेजस्वी के भाई तेजप्रताप यादव, पटना साहिब के सांसद रहे और अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा के पुत्र लव सिन्हा के राजनीतिक भविष्य दांव पर लगे हुए हैं।

गोपालगंज में प्रत्याशी पर हमला
वोटिंग के दौरान गोपालगंज के भाजपा प्रत्याशी मिथिलेश तिवारी पर हमले की खबर आई। उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार पर हमले का आरोप लगाया। बेगूसराय में लोगों को काबू करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।

वोटिंग कम हुई तो भाजपा ने SMS अपील की
सुबह 10 बजे तक वोटिंग की रफ्तार सुस्त थी। इसके बाद भाजपा ने वोटिंग बढ़ाने की अपील के लिए SMS भेजे। इसमें प्रचार नहीं किया, लेकिन 2 घंटे बाद AD-BJPBIH से एकमुश्त मैसेज भेजकर कहा कि आपके इलाके में वोट प्रतिशत कम है, भाजपा को जिताने के लिए ज्यादा से ज्यादा वोटिंग करवाएं।

सुशील मोदी को मिला VIP ट्रीटमेंट, वोटर खफा
पटना के सेंट जोसेफ हाईस्कूल में सुबह-सुबह उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी मतदान करने पहुंचे। वहां मौजूद अन्य लोग मोदी को मिले VIP ट्रीटमेंट से खफा दिखे। लोगों का कहना था कि हम लाइन में आधे घंटे से खड़े हैं, लेकिन वो आए और वोट डालकर चले गए। लाइन में खड़े एक डॉक्टर ने कहा कि हम लोग काफी वक्त से लाइन में लगे हैं, लेकिन अब क्या कीजिएगा, यही वीआईपी सिंड्रोम है।

बेगूसराय में हुआ लाठीचार्ज
बेगूसराय के बखरी विधानसभा क्षेत्र के बखरी बाजार में वोटिंग शुरू होने में देरी पर हंगामा कर रहे लोगों को काबू में करने करने लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया। उधर, फतुहा विधानसभा क्षेत्र के सोनारू गांव के बूथ नंबर 185 पर कुछ लोगों की पिटाई कर दी गई। जिन लोगों को पीटा गया उनका आरोप है कि लालटेन पर वोट नहीं देने पर गुंडों ने उनकी पिटाई की और कपड़े फाड़ दिए।

पटना में पर्ची बांटने पर मारपीट
पटना की दीघा विधानसभा सीट से भारतीय सबलोग पार्टी की प्रत्याशी माया श्रीवास्तव के बेटे और भाजपा विधायक और प्रत्याशी संजीव चौरसिया के समर्थकों के बीच तीखी झड़प हो गई। पर्ची बांटने से शुरू हुई कहासुनी के बाद झड़प में दोनों तरफ के कई लोग घायल हो गए।

NDA की सरकार 2010 के इतिहास को दोहराएगी- नित्यानंद राय
केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने कहा है कि बिहार में माननीय प्रधानमंत्री की सभाओं में जो भीड़ उमड़ी है उसको देखकर और मतदान में लोगों की दिलचस्पी देखकर लग रहा है कि प्रचंड बहुमत से दोबारा यहां एनडीए की सरकार 2010 के इतिहास को दोहराएगी और नीतीश जी के नेतृत्व में सरकार बनाएगी।

बरुराज विधानसभा क्षेत्र में मतदान का बहिष्कार
बिहार के मुजफ्फरपुर के बरुराज विधानसभा क्षेत्र के बूथ संख्या 178 पर ग्रामीणों ने विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में मतदान का बहिष्कार किया। ग्रामीण इलाके में विकास कार्य न होने को लेकर मतदान का बहिष्कार कर रहे हैं। एक ग्रामीण महिला ने कहा, 'रोड नहीं, तो वोट नहीं।'

जंगलराज लाने वालों को भारत माता से दिक्कत: पीएम मोदी
प्रधानमंत्री मोदी ने अररिया की रैली में विपक्ष पर हमला बोला है। उन्होंने कहा, बिहार में जंगलराज लाने वालों के साथियों को भारत माता से दिक्कत है। कभी एक टोली कहती है कि भारत माता की जय के नारे मत लगाओ, कभी दूसरी टोली को भारत माता की जय से सिरदर्द होने लगता है। ये भारत माता के विरोधी अब एकजुट होकर बिहार के लोगों से वोट मांग रहे हैं। 

नीतीश की सभा में चलें पत्थर
बिहार विधानसभा चुनाव के लिए दूसरे चरण का मतदान जारी है। इसी बीच, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तीसरे चरण के लिए चुनाव प्रचार करने मधुबनी के हरलाखी पहुंचे। जहां नीतीश नौकरियों की बात कर रहे थे उसी दौरान भीड़ से किसी ने उन पर पत्थर फेंक दिया। हालांकि, नीतीश ने मंच से कहा कि फेंकों, और फेंकों और फेंकते रहो। इससे पहले भी नीतीश के खिलाफ नारेबाजी हुई थी। 

मतदान केंद्र पर ड्यूटी कर रहे BSF के अवर निरीक्षक की दिल का दौरा पड़ने से मौत
वैशाली जिले में लालगंज विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्र संख्या 191 पर सुरक्षा में तैनात बीएसएफ के अवर निरीक्षक के आर भाई (55) की दिल का दौरा पड़ने से मंगलवार को मौत हो गई। अधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मृतक अवर निरीक्षक गुजरात राज्य के वडोदरा शहर के रहने वाले थे।

सूत्रों ने बताया कि मतदान की प्रक्रिया शुरू होने के समय उक्त अधिकारी को सीने में अचानक तेज दर्द शुरू हो गया जिसकी सूचना उन्होंने अपने बीएसएफ के केंद्र भगवानपुर में दी। बीएसएफ केंद्र के जवान उन्हें हाजीपुर सदर अस्पताल लेकर आए जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। स्थानीय पुलिस ने इस घटना के संबंध में बीएसएफ के जवानों का बयान दर्ज किया है और अधिकारी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

मतदान के बाद लौट रहे लोगों के साथ हुई मारपीट
पटना के फतुहा विधानसभा के सोनारू इलाका स्थित बूथ संख्या 214ए पर मतदान करके लौट रहे एक ही परिवार के तीन लोगों के साथ मारपीट की गई है। मारपीट में तीनों घायल हो गए हैं। लोगों ने एक खास दल के समर्थकों पर पिटाई का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि एक खास पार्टी के पक्ष में उनसे मतदान करने को कहा गया था। जब उन्होंने इससे इनकार किया तो उनकी पिटाई की गई।

कमेंट करें
YxBfc
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।