comScore

Italian Open 2020: नोवाक जोकोविच 5वीं बार इटालियन ओपन के चैंपियन बने, रिकॉर्ड 36वीं बार जीता ATP मास्टर्स 1000 टाइटल


हाईलाइट

  • नोवाक जोकोविच ने पांचवीं बार इटेलियन ओपन का खिताब अपने नाम किया
  • जोकोविच सबसे ज्यादा ATP खिताब जीतने वाले खिलाड़ी भी बने
  • विमेंस सिंगल्स में सिमोना हालेप ने पहली बार इटेलियन ओपन का खिताब जीता

डिजिटल डेस्क। सर्बिया के स्टार खिलाड़ी नोवाक जोकोविच ने इटेलियन ओपन का खिताब अपने नाम कर लिया है। जोकोविच ने पांचवीं बार इस टूर्नामेंट का खिताब जीता है। वहीं विमेंस सिंगल्स में रोमानिया की सिमोना हालेप ने पहली बार इटेलियन ओपन का खिताब अपने नाम किया। वर्ल्ड नंबर-1 जोकोविच ने मेंस सिंगल्स के फाइनल मैच में अर्जेंटीना के डिएगो श्वार्टजमैन को 7-5, 6-3 से मात देकर टूर्नामेंट का खिताब जीता।

जोकोविच सबसे ज्यादा ATP मास्टर्स 1000 टाइटल जीतने वाले खिलाड़ी बने
इसके साथ ही जोकोविच सबसे ज्यादा ATP मास्टर्स 1000 टाइटल जीतने वाले खिलाड़ी भी बन गए हैं। उन्होंने अब तक रिकॉर्ड 36 बार ATP मास्टर्स 1000 टाइटल अपने नाम किए हैं। वर्ल्ड नंबर-2 राफेल नडाल 35  ATP मास्टर्स 1000 टाइटल के साथ दूसरे नंबर पर हैं। वहीं रोजर फेडरर के नाम 28 ATP मास्टर्स 1000 टाइटल हैं। वह सबसे ज्यादा  ATP मास्टर्स 1000 टाइटल जीतने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में तीसरे नंबर पर हैं। 

जोकोविच ने इस साल 32 से  31 मैच जीते
जीत के बाद जोकोविच ने कहा, यह शानदार सप्ताह था, काफी चुनौतीपूर्ण सप्ताह। मुझे नहीं लगाता कि, मैंने इस पूरे सप्ताह अपनी सर्वश्रेष्ठ टेनिस खेली है। लेकिन मुझे लगता है कि जब जरूरत थी तब मैंने अपनी सर्वश्रेष्ठ टेनिस खेली। उन्होंने कहा, इससे मुझे काफी संतुष्टि मिलती है और मुझे इस बात का गर्व है कि, मैं अपने पांचवें गियर में वापसी कर सका। पेरिस जाने से पहले रोम से बेहतर टूर्नामेंट मेरे लिए नहीं हो सकता था। जोकोविच ने इस साल 32 मैच खेले हैं और 31 में उन्हें जीत मिली है।

श्वार्टजमैन पहली बार टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचे थे
दोनों खिलाड़ियों का यह पांचवीं बार आमना-सामना हुआ। जोकोविच ने अब तक सभी 5 मैचों में श्वार्टजमैन को हराया है। श्वार्टजमैन पहली बार टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचे थे। इतना ही नहीं वह 15 साल बाद इटेलियन ओपन के फाइनल में पहुंचने वाले अर्जेंटीना के पहले खिलाड़ी भी बने, लेकिन खिताब जीतने से चूक गए। उनसे पहले अर्जेंटीना के गिलर्मो कोरिया ने 2005 में इस टूर्नामेंट का फाइनल खेला था। डिएगो की कोशिश उन खिलाड़ियों की फेहरिस्त में शामिल होने की थी। जिन्होंने जोकोविच और नडाल के अलावा इस टूर्नामेंट को जीता हो, लेकिन वो एंडी मरे और एलेक्जेंडर ज्वेरेव के साथ खड़े नहीं हो सके।

श्वार्टजमैन ने क्वार्टरफाइनल में नडाल को हराया था
डिएगो श्वार्टजमैन ने मेंस सिंगल्स के सेमीफाइनल मैच में कनाडा के डेनिस शापोवालोव को 6-4, 5-7, 7(7)-6(4) से मात देकर फाइनल में अपनी जगह बनाई है। इससे पहले श्वार्टजमैन ने क्वार्टरफाइनल मैच में नडाल को 6-2, 7-5 से मात देकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया था। नडाल 15वीं बार टूर्नामेंट के क्वार्टरफाइनल में पहुंचे थे। वहीं जोकोविच ने मेंस सिंगल्स के अन्य सेमीफाइनल मैच में नॉर्वे के कैस्पर रुड को 7-5, 6-3 से मात देकर फाइनल में प्रवेश किया था।

सिमोना हालेप ने पहली बार टूर्नामेंट का खिताब जीता
वहीं विमेंस सिंगल्स में रोमानिया की सिमोना हालेप ने पहली बार टूर्नामेंट का खिताब अपने नाम कर लिया है। टॉप सीड हालेप ने फाइनल में चेक रिपब्लिक की कैरोलिना प्लीस्कोवा के खिलाफ 6-0, 2-1 की बढ़त बना ली थी, लेकिन तभी प्लिस्कोवा चोटिल हो गईं और फिर वह दोबारा कोर्ट पर नहीं आईं। इसके बाद हालेप को विजेता घोषित कर दिया गया। हालेप 2017 और 2018 के फाइनल में हार गई थी, लेकिन इस बार वह किस्मत के सहारे ही खिताब अपने नाम करने में सफल रहीं। 

हालेप का यह 22वां डब्ल्यूटीए और क्ले कोर्ट पर 9वां खिताब
हालेप को अब रविवार को फ्रेंच ओपन में अपना पहला मुकाबला खेलना है। मौजूदा चैंपियन ऑस्ट्रेलिया की अश्लेग बार्टी की गैर मौजूदगी में हालेप महिला एकल में टूनार्मेंट की टॉप सीड खिलाड़ी होंगी। इटेलियन ओपन जीतने के बाद हालेप का यह 22वां डब्ल्यूटीए और क्ले कोर्ट पर 9वां खिताब है। दोनों खिलाड़ियों के बीच करियर की यह 12वीं भिड़ंत थी। प्लिस्कोवा ने हालेप के खिलाफ पिछले चार मुकाबलों में से तीन में जीत दर्ज की थी। हालेप की यह लगातार 14वीं जीत है। उन्होंने कोविड-19 महामारी के बाद टेनिस के फिर से शुरू होने के बाद पराग्वे ओपन का खिताब जीता था।
 

कमेंट करें
bau7O