दैनिक भास्कर हिंदी: महाराष्ट्र के आंगनवाड़ी केंद्र होगें डिजिटल, उपलब्ध कराए जाएंगे आधुनिक साधन

June 5th, 2018

हाईलाइट

  • महाराष्ट्र के 30 जिलों की 85 हजार 452 आंगनवाड़ी केंद्रों को डिजिटल बनाया जाएगा।
  • राष्ट्रीय पोषण मिशन के तहत आंगनवाड़ी सेविकाओं को मोबाइल फोन और छोटे बच्चों के वजन- ऊंचाई बढ़ाने के लिए आधुनिक साधन उपलब्ध कराए जाएंगे।
  • राज्य के 30 जिलों में आर्थिक वर्ष 2018-19 तक यह काम पूरा करने का लक्ष्य है।
  • बाकी के 6 जिलों में साल 2019-20 में मिशन को लागू किया जाएगा।
  • योजना के लिए केंद्र सरकार 80 प्रतिशत और राज्य सरकार 20 प्रतिशत निधि उपलब्ध कराएगी।

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र के 30 जिलों की 85 हजार 452 आंगनवाड़ी केंद्रों को डिजिटल बनाया जाएगा। राष्ट्रीय पोषण मिशन के तहत आंगनवाड़ी सेविकाओं को मोबाइल फोन और छोटे बच्चों के वजन- ऊंचाई बढ़ाने के लिए आधुनिक साधन उपलब्ध कराए जाएंगे। राज्य के 30 जिलों में आर्थिक वर्ष 2018-19 तक यह काम पूरा करने का लक्ष्य है।

इसके बाद बाकी के 6 जिलों में साल 2019-20 में मिशन को लागू किया जाएगा। योजना के लिए केंद्र सरकार 80 प्रतिशत और राज्य सरकार 20 प्रतिशत निधि उपलब्ध कराएगी। केंद्र सरकार के माध्यम से विश्व बैंक की मदद से एकात्मिक बालविकास सेवा योजना को सुदृढ़ करने सहित पोषण संसोधन  परियोजना में राष्ट्रीय पोषण मिशन को शामिल किया गया है। इसके अनुसार प्रमुख रूप से बच्चों में कुपोषण कम करने व  प्रामुख्याने बालकांमधील कुपोषण व सिकलसेल एनीमिया (रक्ताल्पता) का प्रमाण कम करने के लिए साल 2018-19 से यह योजना लागू करने की मंजूरी दी गई है।