कर्नाटक: सड़क किनारे गन्ने का रस बेचने वाले दलित पर हमला

February 28th, 2022

डिजिटल डेस्क, हासन (कर्नाटक)। कर्नाटक के हासन जिले के अरकलागुडु में एक चौंकाने वाली घटना में सवर्ण हिंदुओं ने सड़क किनारे गन्ने का रस बेचने वाले एक दलित व्यक्ति और उसके बेटे पर हमला कर दिया।

कोननूर पुलिस ने इस संबंध में शिकायत दर्ज कर ली है और मामले की जांच कर रही है।

पुलिस शिकायत के मुताबिक, रुद्रपट्टना गांव निवासी चंद्रू (50) और उसका 22 वर्षीय बेटा नितिन पिछले छह महीने से एक ठेले पर गन्ने का रस बेच रहा था।

रविवार की सुबह गंगूर गांव के सुनील नाम का एक शख्स आया और गाली-गलौज करने लगा और दावा किया कि दलित द्वारा बनाया गया गन्ने का रस लोग कैसे पी सकते हैं!

शिकायत में कहा गया है कि चंद्रू इस बात पर अड़ गया कि वह अपना व्यवसाय जारी रखेगा। सुनील उसके बाद चला गया, लेकिन कुछ देर बाद अपने रिश्तेदारों और दोस्तों के साथ लौटा और वे सभी चंद्रू के साथ मारपीट करने लगे।

उन लोगों ने चंद्रू के बेटे नितिन को भी मारा। ठेले पर रखे गन्ने फेंक दिए। हमले के दौरान सुनील कहता रहा कि निचली जाति का होने के कारण चंद्रू उन्हें कैसे चुनौती दे सकता है। आरोपियों के साथ स्थानीय निवासी सैयद तंजीम भी शामिल था।

चंद्रू ने पुलिस को बताया कि जान बचाने के लिए उसे और उसके बेटे को मौके से भागना पड़ा। दोनों ने कोननूर के एक अस्पताल में इलाज कराया।

चंद्रू ने पुलिस से उनके परिवार को सुरक्षा देने और पिता-पुत्र हमला करने वाले आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने का अनुरोध किया है।

(आईएएनएस)

खबरें और भी हैं...