comScore

समस्याएं विकराल, 800 वोटर्स ने एस साथ मुंडन कर मतदान का किया बहिष्कार

समस्याएं विकराल, 800 वोटर्स ने एस साथ मुंडन कर मतदान का किया बहिष्कार

डिजिटल डेस्क, यवतमाल/चंद्रपुर। लोकसभी चुनाव के पहले चरण के लिए मतदान जारी है। इस बीच लंबे समय से मांग पूरी न होने के कारण कई जगह लोगों ने चुनाव का बहिष्कार करते हुए मतदान न करने का निर्णय लिया है। 

चंद्रपुर में मुंडन कर 800 मतदाताओं ने किया विरोध

चंद्रपुर के महाकाली वार्ड हिराइनगर के मतदाताओं ने गुरुवार को मतदान के दिन ही मुंडन कर वोटिंग का विरोध किया।  लगभग  800 लोगों ने एकसाथ मुंडन कर के सबको सांसत में डाल दिया। ये लोग अपनी झोपड़पट्टी में महानगर पालिका की बुनियादी सेवा सुविधाओ की मांग कर रहे थे। इसके लिए मोर्चा, धरना आंदोलन कर थक चुके हैं। कल बस्चुती के सभी लोगों ने चुनाव बहिष्कार की चेतावनी दी थी। 

ईवीएम खराब समझकर लौटे मतदाता

इसके अलावा ईवीएम मशीन में तकनीकी खराबी आ गई, मतदान नहीं होगा समझकर सैकड़ों मतदाता वोट डाले बिना ही घर लौट गए। बूथ क्रमांक 115 पर मतदान रुका था। वोटर की गलती से बटन दबाए बगैर बीप का आवाज नही आई कहकर वोटिंग रोक दी गई। मौके पर तहसीलदार जाधव ने पहुंचकर निरीक्षण कर फिर वोटर को बटन दबाने को कहा, तब बीप सुनाई दी ओर मतदान प्रक्रिया फिर से सुचारु की गई। इसी बीच कई वोटर्स मशीन खराब समझकर लौट गए थे।

यवतमाल के इस गांव में भी मतदान का बहिष्कार

यवतमाल जिले के नेर तहसील के आजन्ती बेड़ा में व्याप्त भीषण पेयजल की समस्या से त्रस्त लोगों ने चुनाव का बहिष्कार करते हुए मतदान न करने का निर्णय लिया है। इस गांव में 950 लोग रहते हैं। यहां पानी की समस्या इतनी विकराल है कि लोगों को पीने के पानी के लिए भी मोहताज होना पड़ रहा है। प्रशासन के समक्ष बार-बार मांग रखने के बावजूद समस्या का कोई हल न निकलने पर यहां के लोगों ने मतदान न करने का निर्णय लिया है।

कमेंट करें
m1ACp