• Dainik Bhaskar Hindi
  • State
  • general meeting of Chandrapur City Municipal Corporation was taken offline for the first time after one and a half years. many issues came to the fore in the meeting.

चंद्रपुर: डेढ़ वर्ष बाद हुई मनपा की ऑफलाइन आमसभा, छाए रहे अनेक मुद्दे

October 26th, 2021

डिजिटल डेस्क,चंद्रपुर  । चंद्रपुर शहर महानगर पालिका की आमसभा डेढ़ वर्ष बाद पहली बार ऑफलाइन  ली गई। इस दौरान सभा में अनेक मुद्दे छाए रहे। सभा में वेकोलि अंतर्गत लालपेठ कालोनी में पिछले 70 वर्ष से बस्ती है, जिसे वेकोलि  अब खुली कोयला खदान शुरू करने के लिए खाली करने के प्रयास में है। इसके लिए नागरिकों को बार-बार सूचना दी जा रही है। इस संदर्भ में मनपा की आमसभा में प्रस्ताव लियय गया कि वेकोलि  लालपेठ बस्ती न हटाए। इस समय पीठासीन अधिकारी महापौर राखी कंचर्लावार, उपमहापौर राहुल पावडे, स्थायी समिति सभापति संदीप आवारी, आयुक्त राजेश मोहिते उपस्थित थे। शुरुआत में तत्कालीन नप के नगराध्यक्ष पं. गयाचरण त्रिवेदी, सदस्य सुरेश चहारे, सदस्य लक्ष्मण फंदी, उपाध्यक्ष प्रमोद मुल्लेवार के निधन पर श्रद्धांजलि दी गई। आमसभा में सदस्य अंजलि  घोटेकर ने चंद्रपुर शहर मनपा क्षेत्र के बायपास मार्ग विकास प्रारूप से हटाकर वह जगह निवासी विभाग में समावेश करने संबंध में निर्णय लेने पर विधानमंडल लोकलेखा समिति के प्रमुख तथा पूर्व वित्तमंत्री विधायक सुधीर मुनगंटीवार के अभिनंदन का प्रस्ताव रखा।

सदस्य श्याम कनकम ने लालपेठ की बस्ती खुली कोयला खदान के लिए वेकोलि द्वारा  खाली करवाने को लेकर जोर लगाया जा रहा है, इस ओर सभागृह का ध्यान आकर्षित किया। लालपेठ कोयला खदान पिछले अनेक वर्षों से वेकोलि के कब्जे में है। साथ ही लालपेठ मंे पिछले 70 वर्ष से लोगों की बस्ती है। अनेक लोगांे ने पक्के घर बना लिए हंै। अब सावरकर हिंदी स्कूल के पास वेकोलि कोयला खदान शुरू करने के लिए बस्ती हटाने का प्रयास कर रही है। उस पर सभागृह ने वेकोलि ने लालपेठ बस्ती न हटाने का प्रस्ताव पारित किया। इसके अलावा इसी प्रभाग में मनपा की तेलुगू प्राथमिक शाला में शिक्षक दिया जाए और शाला को संरक्षक दीवार खड़ी करने की मांग उन्होंने की।

वाहनों पर लाखों खर्च लेकिन मनपा में जानकारी ही नहीं
आमसभा में नगरसेवक पप्पू देशमुख ने मनपा में फिर एक गंभीर मामला सामने लाया। देशमुख ने मनपा प्रशासन को पत्र देकर 2017 से भाडे से लिए वाहनों की जानकारी मांगी। मनपा के अधिकारी व पदाधिकारी के लिए भाडे से लिए वाहनों का पंजीयन क्रमांक, मालिक का नाम, वाहन का लाईसेन्स आदि की जानकारी लिखीत स्वरूप में मांगी थी। इस पत्र को जवाब देते समय मनपा के अतिरिक्त आयुक्त ने इस तरह की जानकारी उपलब्ध नही होने की बात देशमुख को लिखीत स्वरूप बताई। विशेष बात यह है कि, पिछले 4 वर्ष में सहाय्यक आयुक्त व उपमहापौर के लिए 4 वाहन भाडे से लिए गए। हर वर्ष करीब 20 लाख रूपए इन वाहनों के भाडे के एैवज में अदा किए गए।

20 लाख रूपए हर वर्ष खर्च कर भाडे से लिए वाहनों की जानकारी उपलब्ध नही है, यह लिखीत स्वरूप में नगरसेवकों को देना यह गंभीर विषय की जानकारी देशमुख ने महापौर को बताई। पिछली आमसभा में पप्पू देशमुख ने जलमापक यंत्र लगाने के लिए करीब 20 करोड़ रूपए के काम में ई-निविदा प्रक्रिया न चलाते हुए ठेकेदार को काम देने का भ्रष्टाचार होने का आरोप किया था। इस संबंध में आयुक्त राजेश मोहिते ने दिए लिखीत जवाब गुमराह करनेवाला होने का आरोप फिर एकबार देशमुख ने सबुतों के साथ किया। जल मापक यंत्र लगाने व भाडे से वाहन लेने के मामले की जिला भ्रष्टाचार निर्मूलन समिती के अध्यक्ष चंद्रपुर जिलाधिकारी के पास जांच के लिए दी जाएग और दोषी अधिकारी पर निलंबन की कार्रवाई करने की मांग देशमुख ने की। दोनों मामले की देखकर जिलाधिकारी के माध्यम से जांच करने का आश्वासन महापौर राखी कंचर्लावार ने दिया।

शास्ती कर माफ करने की उठी मांग
आर्थिक वर्ष 2020-2021 व 2021-2022 के संपत्ति टैक्स के बिल में जोड़कर आया हुआ शास्ती कर (जुर्माना) माफ करने की मांग नगरसेवक देवेंद्र बेले ने की। महापौर को दिए ज्ञापन में बताया कि, मनपा द्वारा लगाए जानेवाले संपत्ति  टैक्स के बिल में कुछ अनावश्यक टैक्स भी लगाए जा रहे हंै। विशेष रूप से शास्ती कर का खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ रहा है। िपछले दो वर्ष कोरोना का दौर रहा है। अभी पूरी स्थिति सामान्य नहीं हुई है। नागरिक आर्थिक तंगी से जूझ रहे हंै। पिछले दौर में मनपा ने संपत्ति  टैक्स से शास्ती कर माफ किया था। इस बार भी वह माफ हो, ऐसी भावना नागरिकों की है। वह माफ हुअा तो लोग भी टैक्स भरने के लिए प्रोत्साहित होंगे।

शहर के यह विषय भी उठे
सदस्य सविता कांबले ने   डा.बाबासाहेब आंबेडकर और शहर के अन्य पुतलों की देखरेख, सौंदर्यीकरण संबंध में, सदस्य माया उईके ने गोंडकालीन जटपुरा गेट और अन्य वास्तु पर विज्ञापन के बैनर लगाने संबंध में प्रतिबंध लगाने की मांग की। सदस्य सुनीता लोढीया ने सड़क पर खुले में  होनेवाली मांस बिक्री पर पाबंदी लगाने का मुद्दा उठाया।  सदस्य वंदना तिखे ने रामनगर के सड़क पर लगनेवाले सब्जी बाजार हटाने की मांग की। बिनबा गेट से यातायात बड़े पैमाने पर शुरू है। गेट छोटा होने के चलते कई बार आना-जाना करनेवाले वाहनों में दुर्घटना होती है। यह असुविधा दूर करने के लिए सिग्नल लगाने की मांग सदस्य प्रशांत दानव ने की। इन सभी मांगों पर तत्काल उपाययोजना कर समस्या हल करने की सूचना महापौर राखी कंचर्लावार ने दिए।