comScore

नौकरी नहीं मिली तो फांसी लगाई, और भी है नागपुर शहर की अहम वारदातें-जानिए

नौकरी नहीं मिली तो फांसी लगाई, और भी है नागपुर शहर की अहम वारदातें-जानिए

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  बेरोजगारी से त्रस्त होकर वाहन चालक ने फांसी लगा ली। अजनी थाने में आकस्मिक मृत्यु का मामला दर्ज किया गया है। नागपुर शहर में एक शख्स के फांसी लगाने के साथ ही और भी अहम वारदातें हुई। फुलमती ले-आउट निवासी राजू अरुण कुंवर (23) निजी वाहन चालक था। लॉकडाउन के कारण उसकी नौकरी छूट गई थी। कुछ दिन घर बैठने के बाद राजू ने फिर से नौकरी की तलाश शुरू की, लेकिन काफी प्रयास के बाद भी उसे नौकरी नहीं मिली। मंगलवार-बुधवार की दरमियानी रात सीलिंग फैन में बेडशीट बांधकर उसने फांसी लगा ली। वह अपने चाचा के पास रहता था। प्रशिक रमेश कुंवर (29) की शिकायत पर प्रकरण दर्ज किया गया है।

बार से नकदी और शराब चोरी
लॉकडाउन के दौरान एक बियर बार में चोरी हुई।  गणेशपेठ थाने में मामला दर्ज किया गया है। मेयो अस्पताल चौक के पास अमित रेस्टॉरेंट एंड बियर बार है। 18 मार्च से 20 जुलाई 2020 के दरमियान लॉकडाउन होने के कारण रेस्टॉरेंट और बार बंद था। इस दौरान कोई बार के पीछे के गेट पर चढ़ा और छत की पीओपी तोड़कर भीतर प्रवेश किया। बार से नकद 1 हजार रुपए और विविध कंपनियों की शराब की बोतलें कुल 1 लाख 6 हजार रुपए का माल चोरी किया है। जांच जारी है।

फर्जी दस्तावेज से जमीन हड़पी
फर्जीवाड़े से एक व्यक्ति की जमीन हड़पने का मामला प्रकरण में आया है। चार आरोपियों के खिलाफ कोतवाली थाने में बुधवार को प्रकरण दर्ज किया गया है। सेमिनरी हिल्स स्थित गजानन प्रसाद सोसायटी निवासी आनंद श्रीवास्तव (59) है, जबकि आरोपी साबिर मियाज खान (44) गिट्टीखदान, हितेश सुधीर अग्रवाल  (38) बैरागीपुरा, एजाज अकबर अंसारी (35) गोविंद नगर और अन्य एक व्यक्ति है। घटना 6 से 18 अगस्त 2015 के बीच की है। आनंद की जमीन मौजा गोरेवाड़ा में है। आरोपियों ने इस जमीन के नकली दस्तावेज बनाए और उस पर आनंद के फर्जी हस्ताक्षर किए।  इसके बाद जमीन की रजिस्ट्री साबिर के नाम की गई। घटना से आनंद को 90 लाख रुपए का चूना लगाया गया है। जांच जारी है।

जुआ अड्डे पर छापा
 गणेशपेठ क्षेत्र के गांधीसागर तालाब परिसर में एक शौचालय के पास चल रहे जुआ अड्डे पर पुलिस ने छापा मारा। अड्डे से 5 जुआरियों को पकड़ा गया। उनके नाम रितेश सावरकर, संदीप काले, अमोल बोंद्रे, नितीन हर्डे व मुकेश हैं। कुछ जुआरी पुलिस को चकमा देकर भागने में कामयाब हो गए। ये सभी थाने से कुछ ही दूरी पर जुआ खेल रहे थे। गणेशपेठ के थानेदार शिवराम कुंभरे को बुधवार को गुप्त सूचना मिली थी। इसके बाद घेराबंदी डालकर जुआरियों को दबोच लिया गया। मामला दर्ज किया गया। छानबीन जारी है। 
 

कमेंट करें
UBlqk