दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर के सिविल लाइंस के मीठानीम शरीफ का उर्स 10 से

March 8th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। हजरत बाबा सैयद शाह जलालुद्दीन औलिया मीरेसुर्ख रहमतुल्ला अलैह का 210 वां सालाना उर्स शरीफ मीठानीम शरीफ, विधानभवन के पास सिविल लाइंस में 10 से 14 मार्च तक उत्साहपूर्वक मनाया जाएगा। सज्जादानशीन मोहम्मद अब्दुल कादिर खान कादरी उर्फ बाबाजान व फर्जनदान की तरफ से 10 मार्च को आगाजे उर्स शरीफ होगा। 11 मार्च को सुबह 9.30 बजे जूनियर सज्जादगान मास्टर मोहम्मद मोईनुद्दीन खान कादरी व मास्टर मोहम्मद शफीउद्दीन खान कादरी के हाथों झंडावंदन की रस्म अदा की जाएगी। 26वीं शरीफ व शबे मेराज के मौके पर दोपहर 3 बजे श्रीमंत राजे महाराज मुधोजीराव भोसले के हाथों से मजारे अक्दस पर चादर शरीफ व फूल पेश करेंगे। दरबार शरीफ में 26वीं शरीफ व शबे मेराज के कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगे।

बाबा सैयद शाह जलालुद्दीन औलिया, भोसले राजा के अरब रेजीमेंट में सेनापति थे। सीताबर्डी की लड़ाई के समय उनकी रूहानी ताकत जाहिर हुई। बाबा अक्सर नीम के पेड़ के नीचे इबादत में व्यस्त रहते थे। उसी नीम के पेड़ के नीचे उनकी दरगाह शरीफ है। उस नीम के पेड़ के पत्ते उनकी याद-ए-इलाही के कारण मीठे हो गए। तभी से उस स्थान को मीठानीम कहा जाने लगा। हजरत बाबा ताजुद्दीन औलिया अपनी जंfदगी में हजरत बाबा सैय्यद जलालुद्दीन औलिया दरगाह मीठानीम शरीफ में तशरीफ लाया करते थे। लोगों से मुखातिब होकर फरमाते थे, होजीबा हजरत अपने बड़े भाई है, यहां आया करते। उर्स के दौरान हर रोज सुबह कुरआन पाठ रोजाना बाद नमाजे मगरीब सला-तो-सलाम व मिलाद शरीफ और रोजाना बाद नमाजे ईशा रात 9.30 बजे से महफिले कव्वाली होगी। 14 मार्च को सुबह 11.30 बजे कुल शरीफ की फातेहा होगी और बाद में लंगर होगा। सभी धर्म को लोगों से उर्स में शामिल होने का आह्वान िकया गया है।