दैनिक भास्कर हिंदी: लंदन विश्व पर्यटन मेले में चीनी प्रदर्शनी क्षेत्र खुला

November 5th, 2019

हाईलाइट

  • लंदन विश्व पर्यटन मेले में चीनी प्रदर्शनी क्षेत्र खुला

बीजिंग, 5 नवंबर (आईएएनएस)। ब्रिटेन के स्थानीय समय के अनुसार चार नवम्बर को साल 2019 विश्व पर्यटन मेला लंदन प्रदर्शनी केंद्र में उद्घाटित हुआ। इसके साथ ही चीनी प्रदर्शनी क्षेत्र भी खुला। पेइचिंग, हपेई, शानतोंग, भीतरी मंगोलिया स्वायत्त प्रदेश और तिब्बत स्वायत्त प्रदेश समेत 16 प्रांतों, स्वायत्त प्रदेशों और केंद्र शासित शहरों के सांस्कृतिक पर्यटन विभागों, पर्यटन निगमों, अंतर्राष्ट्रीय संगठनों और एयरलाइन्स कंपनियों के 150 से अधिक प्रतिनिधियों ने इसके शुभारंभ रस्म में भाग लिया।

तीन दिवसीय यह विश्व पर्यटन मेला चार नवम्बर को सुबह औपचारिक तौर पर उद्घाटित हुआ। अकल्पनीय चीन थीम वाले चीनी प्रदर्शनी केंद्र का उद्घाटन समारोह भी आयोजित हुआ।

ब्रिटेन स्थित चीनी राजदूत ल्यू श्याओमिंग ने इस मौके पर कहा, चीन और ब्रिटेन के बीच संस्कृति और पर्यटन क्षेत्र में सहयोग करने का उज्‍जवल भविष्य है। ज्यादा घनिष्ठ आदान-प्रदान और सहयोग से चीनी और ब्रिटिश जनता की मैत्री को आगे बढ़ाया जाएगा, चीन-ब्रिटेन संबंध के प्रति नागरिक ज्यादा विश्वासबद्ध होंगे।

उन्होंने कहा, चीन और ब्रिटेन के बीच सांस्कृतिक आदान-प्रदान ने पूर्व और पश्चिम के बीच मानविकी आवाजाही के लिए आदर्श बनाया। कहा जाता है कि पर्यटन से लोगों की ²ष्टि का दायरा विस्तार होता है। हमें आशा है कि इस गतिविधि के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा लोग चीन की सुन्दरता महसूस कर सकेंगे, और चीन व ब्रिटेन के सांस्कृतिक और पर्यटन सहयोग के सुनहरा भविष्य को देख सकेंगे।

ब्रिटेन के डिजिटल, संस्कृति, मीडिया और खेल मंत्रालय के उप राज्य मंत्री हेलेन वॉटली ने कहा कि पर्यटन उद्योग के क्षेत्र में चीन और ब्रिटेन की परियोजना मिलती जुलती है। पर्यटन आवाजाही से दोनों देशों के बीच ज्यादा गहरे व्यापारिक सहयोग के लिए मददगार सिद्ध होगा और साथ ही दोनों देशों के नागरिकों के संबंध को भी मजबूती मिलेगी।

उन्होंने कहा, बताया जाता है कि चीन और ब्रिटेन विश्व में बड़े पर्यटन देश हैं, जो एक दूसरे के महत्वपूर्ण पर्यटन गंतव्य स्थल और प्रमुख पर्यटन बाजार है। आंकड़ों से पता चला है कि साल 2018 में चीन में यात्रा करने वाले ब्रिटेश लोगों की संख्या 6 लाख 7.8 हजार थी, जो साल 2017 की तुलना में 2.9 प्रतिशत की वृद्धि हुई। जबकि ब्रिटेन की यात्रा करने वाले चीनी पर्यटकों की संख्या 7 लाख 45.1 हजार थी, जो साल 2017 से 2.4 प्रतिशत का इजाफा हुआ।

यहां बता दें कि लंदन विश्व पर्यटन मेले की स्थापना 1980 में हुई थी, जिसे वर्तमान विश्व में सबसे बड़ा और सबसे पेशेवर पर्यटन मेला माना जाता है।

(साभार-चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)