दैनिक भास्कर हिंदी: फिच ने 9 भारतीय बैंकों के परिदृश्य नकारात्मक किए

June 22nd, 2020

हाईलाइट

  • फिच ने 9 भारतीय बैंकों के परिदृश्य नकारात्मक किए

नई दिल्ली, 22 जून (आईएएनएस)। भारत का परिदृश्य स्थिर से घटाकर नकारात्मक करने के बाद फिच रेटिंग्स ने सोमवार को नौ भारतीय बैंकों के परिदृश्य को संशोधित कर उसे नकारात्मक कर दिए।

दीर्घकालिक इसुअर डिफाल्ट रेटिंग्स (आईडीआर) पर परिदृश्य को संशोधित कर स्थिर से नकारात्मक कर दिया गया, क्योंकि ये बैंक पुनर्पूंजीकरण के लिए केंद्र सरकार पर अत्यधिक निर्भर हैं।

भारतीय आयात-निर्यात बैंक, भारतीय स्टेट बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, बैंक ऑफ बड़ौदा (न्यूजीलैंड), बैंक ऑफ इंडिया, केनरा बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक लिमिटेड के परिदृश्य नकरात्मक किए गए हैं।

फिच ने एक बयान में कहा है, फिच ने ठीक यहीं पर आईडीबीआई बैंक लिमिटेड के आईडीआर को बरकरार रखा है, जबकि परिदृश्य को घटाकर नकारात्मक कर दिया है।

इसके पहले फिच ने 18 जून को भारत के बीबीबी- रेटिंग पर परिदृश्य को संशोधित कर उसे स्थिर से नकारात्मक कर दिया था। यह संशोधन कोरोनावायरस महामारी के कारण भारतीय अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले प्रभाव के मद्देनजर किया गया था।

बयान में कहा गया है, उपरोक्ता सभी भारतीय बैंकों के लिए आईडीआर सपोर्ट-ड्रिवेन हैं और वे उनके संबंधित एसआरएफ से जुड़े हुए हैं।

बयान में आगे कहा गया है, वे इन बैंकों के लिए अभूतपूर्व सरकारी मदद की उच्च से मध्यम संभावना के फिच के आकलन पर आधारित हैं।

बयान के अनुसार, भारत के सॉवरेन रेटिंग पर नकारात्मक परिदृश्य अभूतपूर्व मदद मुहैया कराने की सरकार की क्षमता पर एक बढ़े हुए तनाव को जाहिर करता है, क्योंकि कोविड-19 महामारी से खड़ी हुईं चुनौतियों के कारण सॉवरेन का राजकोषीय स्पेस सीमित हो गया है और राजकोषीय मैट्रिक्स की स्थिति काफी बिगड़ गई है।