comScore

PMC Bank Scam : प्रदर्शन करके घर लौटे खाताधारक की मौत, फंसे थे 90 लाख रुपए

PMC Bank Scam : प्रदर्शन करके घर लौटे खाताधारक की मौत, फंसे थे 90 लाख रुपए

हाईलाइट

  • पीएमसी बैंक के खाताधारक की मौत
  • प्रदर्शन के बाद लौटे थे घर
  • अचानक तबीयत बिगड़ी

डिजिटल डेस्क, मुंबई। पंजाब और महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक (PMC Bank) में जमा पैसे निकालने की सीमा तय होने के बाद से खाताधारक प्रदर्शन कर रहे हैं। इस बीच एक खाताधारक की मौत की खबर सामने आई है। जिसके बैंक में 90 लाख रुपए जमा थे। 51 वर्षीय संजय गुलाटी सोमवार को मुंबई के किला कोर्ट के बाहर हुए प्रदर्शन में शामिल हुए थे। संजय मुंबई के ओशिवारा इलाके में रहते थे। प्रदर्शन के बाद जब घर लौटे तभी अचानक उनकी तबीयत खराब हो गई। जिसके बाद उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी मौत हो गई। गुलाटी के बैंक में 90 लाख रुपए डिपोजिट थे। 

बता दें कि आरबीआई ने पीएमसी बैंक खाताधारकों के लिए निकासी की सीमा को बढ़ाकर 40,000 रुपये कर दिया। पहले निकासी की सीमा एक अकाउंट होल्डर के लिए 25,000 रुपये थी। यह तीसरी बार है जब बैंक ने निकासी की सीमा बढ़ाई है। नियामक ने पहले 1,000 रुपये की निकासी की, जो बाद में बढ़कर 10,000 रुपये और 25,000 रुपये हो गई। पीएमसी बैंक में फ्रॉड सामने आने के बाद आरबीआई ने 23 सितंबर को बैंक पर 6 महीने का प्रतिबंध लगाने के बाद निर्देश दिए थे। इसके साथ ही आरबीआई ने कहा था कि जमाकर्ता अपने खाते से 1 हजार रुपये से ज्यादा की राशि नहीं निकाल सकेंगे।

गौरतलब है कि पीएमसी बैंक ने अनियमितता बरतते हुए एचडीआईएल (हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड) को हजारों करोड़ रुपए का लोन बांटा था। इसके कारण कम से 4,355 करोड़ रुपए का नुकसान होने का अनुमान है। बैंक के कर्मचारियों ने एचडीआईएल के खाते को एनपीए घोषित करने से बचाए रखने के लिए कई डमी अकाउंट्स का इस्तेमाल किया था।

इस मामले में मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने एचडीआईएल के दो प्रमोटरों, राकेश वधावन और उनके बेटे सारंग वधावन को गिरफ्तार किया है। ईओडब्लू ने दावा किया था कि शुरुआती जांच में पता चला है कि बैंक के साफ्टवेयर के साथ कुछ छेड़छाड की गई थी ताकि 44 खातों को छुपाया जा सके। 


 

कमेंट करें
fkVEX