टर्म इन्श्योरेन्स: जीवन के हर पड़ाव पर जरूरी है टर्म इन्श्योरेन्स। जानिए कैसे

September 27th, 2022

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। टर्म इंश्योरेंस, लाइफ इंश्योरेंस का सबसे किफायती प्रकार है। यदि बीमित व्यक्ति की दुर्भाग्यवश मृत्यु हो जाती है, तो टर्म लाइफ इंश्योरेंस प्लान में उल्लिखित नॉमिनी व्यक्ति को लाइफ इंश्योरेंस के रूप में वित्तीय सुरक्षा प्रदान की जाती है। इस वित्तीय सुरक्षा के बदले में, पॉलिसीधारक को लाइफ इंश्योरेंस प्रदाता कंपनी को प्रीमियम का भुगतान करना पड़ता है। प्रीमियम की गणना के लिए आप टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटर का उपयोग कर सकते हैं। टर्म प्लान एक शुद्धलाइफ कवर है, इसलिए, यदि बीमित व्यक्ति पॉलिसी अवधि के समापन तक जीवित रहता है, तो उसे नियमित टर्म प्लान के मामले में कोई रिटर्न नहीं मिलेगा। 

आइये इस ऑर्टिकल में टर्म इंश्योरेंस क्यों जरुरी है, इस बारे में जानते हैं-

आपको टर्म इंश्योरेंस की आवश्यकता क्यों है?

चाहे आप जीवन के किसी भी पड़ाव पर हों, टर्म लाइफ इन्श्योरेन्स आपके काम जरूर आ सकता है। यदि आप एक युवा हैं, तो आप कम प्रीमियम दरों पर एक अधिक कवर का टर्म इन्श्योरेन्स ले सकते हैं। इस समय आपके ऊपर ज़िम्मेदारियाँ उतनी नहीं होती, पर उम्र के साथ इनमें बढ़ोतरी होती है। टर्म इन्श्योरेन्स की मदद से आप अपनी शादी के बाद अपने जीवन साथी को, माता-पिता को, तथा कुछ वर्षों बाद अपने बच्चों को  वित्तीय सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं। आगे चलकर जब आप अपना घर लेंगे, गाड़ी लेंगे, तथा कोई अन्य ऋण अपने सर लेंगे, तो उसे चुकाने का भार भी आप अपनों के सर से टाल सकते हैं, एक टर्म इन्श्योरेन्स प्लान की मदद से। अंत में, सेवानिवृति के उपरांत भी यदि कोई आप पर आर्थिक रूप से निर्भर हो, तो उनके लिए भी एक टर्म प्लान ले सकते हैं। 

ध्यान रखें की उम्र के साथ साथ प्रीमियम दरों में भी बढ़ोतरी होती है, तो जितनी जल्दी हो सके, टर्म इन्श्योरेन्स में निवेश जरूर करें। यहां कुछ सामान्य कारण बताए जा रहे हैं, जिससे यह पता चलता है कि टर्म इंश्योरेंस के क्या फायदे हैं:
●    टर्म लाइफ इंश्योरेंस प्रियजनों की रक्षा करता है
●    टर्म लाइफ इंश्योरेंस पॉकेट फ्रेंडली है
●    टर्म लाइफ इंश्योरेंस आपके परिवार की ऋण के बोझ से बचाता है 
●    यह ऐड-ऑन राइडर्स के साथ आता है
●    यह आय कर अधिनियम, 1961 की धारा 80 सी के मुताबिक टैक्स बचाने में मदद करता है 

अपने लिए उपयुक्त टर्म इंश्योरेंस प्लान कैसे चुनें

अपने लिए उपयुक्त टर्म लाइफ इंश्योरेंस प्लान चुनने के लिए टर्म इंश्योरेंस कैलकुलेटरआपकी मदद कर सकता है। आपको अपनी ज़रूरतों के लिए सही टर्म इंश्योरेंस प्लान चुनने में जिन  मापदंडों को ध्यान में रखना होता है, वे निम्न हैं-

●    कवरेज की राशि: आप सुनिश्चित करें कि कवरेज की राशि आपके परिवार की दैनिक जरूरतों, उनके जीवन लक्ष्यों की लागत और आपके नाम पर किसी भी बकाया ऋण को कवर करने के लिए पर्याप्त है।

●    पॉलिसी टर्म: टर्म लाइफ इंश्योरेंस प्लान में एक पॉलिसी अवधि होनी चाहिए जो आपकी कमाई के वर्षों, आपके सबसे लंबे जीवन लक्ष्य और आपके सबसे लंबे कर्ज को कवर करने के लिए पर्याप्त हो। 

●    कवरेज की लागत: यदि आप एक टर्म लाइफ इन्शुरन्स प्लान खरीदते हैं जो आपके बजट से बाहर है, तो आपको प्रीमियम को बनाए रखना मुश्किल हो सकता है। यह, बदले में, नीति को समाप्त करने का कारण बन सकता है। तब आप अपने टर्म प्लान द्वारा दिए गए सभी लाभों को खो देंगे। इसलिए एक टर्म प्लान चुनना महत्वपूर्ण है जिसे आप खरीद सकते हैं।

●    ऐड-ऑन राइडर्स का चयन करें: ऐड-ऑन राइडर्स अतिरिक्त वैकल्पिक कवर हैं जिन्हें आप अतिरिक्त प्रीमियम के लिए बेस कवर के साथ खरीद सकते हैं। ये राइडर्स विशिष्ट घटनाओं के लिए वित्तीय कवरेज प्रदान करते हैं। कुछ सामान्य राइडर्स में क्रिटिकल इलनेस राइडर, एक्सीडेंटल पर्मानेंट पार्शल/टोटल डिसेबिलिटी राइडर, प्रीमियम वेवर राइडर, आदि शामिल हैं। तय करें कि आपको इनमें से कोई चाहिए या नहीं और अपनी योजना खरीदते समय ही उन्हें खरीद लें।

●    क्लेम सेटलमेंट रेशीयो सही होना चाहिए: उपयुक्त टर्म लाइफ इंश्योरेंस प्लान आपके नॉमिनी व्यक्तियों को विश्वसनीय सुरक्षा प्रदान करती है। यह सुनिश्चित करने के लिए आपको सही क्लेम सेटलमेंट रेशीयो वाली कंपनी से टर्म इंश्योरेंस कवर लेना चाहिए। प्रतिशत जितना अधिक होगा, आपके नॉमिनी के वास्तविक क्लेम का तुरंत सेटलमेंट होने की संभावना उतनी ही अधिक होगी।

तो इस प्रकार आप एक सही टर्म लाइफ इन्श्योरेन्स प्लान का चयन कर जीवन के किसी भी पड़ाव में अपने परिवार और प्रियजनों को वित्तीय सुरक्षा का तोहफा दे सकते हैं। कम से कम उम्र में खरीदने पर आपको सबसे अधिक लाभ प्राप्त होंगे, हालांकि आम तौर पर यह योजनाएँ जीवन के हर चरण में किफायती ही होती हैं।