दैनिक भास्कर हिंदी: स्विस बैंक का कर्जा नहीं लौटा पाए माल्या, खोना पड़ेगा लंदन का आलीशान बंगला

November 22nd, 2018

हाईलाइट

  • शराब कारोबारी विजय माल्या की मुश्किले बढ़ती जा रही है।
  • माल्या ने स्विस बैंक UBS से इस हवेली को गिरवी रखकर 20.4 करोड़ पाउंड का कर्ज लिया था।
  • लंदन हाई कोर्ट ने गुरुवार को माल्या की लीगल टीम के सभी दलीलों को खारिज कर दिया।

डिजिटल डेस्क, लंदन। शराब कारोबारी विजय माल्या की मुश्किलें बढ़ती जा रही है। अब माल्या को लंदन के पॉश इलाके में स्थित उसकी आलीशान हवेली से हाथ धोना पड़ सकता है। दरअसल माल्या ने स्विस बैंक UBS से मार्च 2012 में इस हवेली को गिरवी रखकर 20.4 करोड़ पाउंड का कर्ज लिया था। जब माल्या ने बैंक का कर्ज नहीं चुकाया तो इसकी वसूली के लिए बैंक ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया और माल्या की प्रॉपर्टी को जब्त करने के आदेश देने की मांग की। जिसके बाद लंदन हाई कोर्ट ने गुरुवार को माल्या की लीगल टीम की सभी दलीलों को खारिज कर दिया। इससे पहले अदालत ने माल्या को 88,000 पाउंड तत्काल यूबीएस को चुकाने का आदेश दिया था। इस मामले की अगली सुनवाई मई 2019 में होगी।

यूबीएस ने पिछले महीने कॉर्नवॉल टैरेस के रिजेंट पार्क मेंशन में बने बंगले का कब्जा लेने के लिए यूके हाईकोर्ट में आवेदन किया था। माल्या ने अपने परिवार के ट्रस्ट की कंपनी रोज कैपिटल वेंचर्स के जरिए ये कर्ज लिया था। यूबीएस ने अदालत के फैसले पर खुशी जताई है। जज ने कहा कि ऐसा कोई तथ्य नहीं दिखता, जिसके आधार पर माल्या को अपना पक्ष रखने के लिए अब और मौके दिए जाए। बताया जाता है कि  माल्या ने लंदन के कॉर्नवॉल टेरेस स्थित जिस घर को मॉर्टगेज रखा है उसमें एक गोल्डन टॉयलेट सीट भी है। बैंक ने यूके हाईकोर्ट में इस संपत्ति को विजय माल्या, उनके परिवार और यूनाइटेड ब्रेवरीज ग्रुप कॉर्पोरेट गेस्ट के लिए उच्च वर्ग का मकान बताया था। माल्या अपना घर यूबीएस द्वारा अधिकार में लिए जाने से बचाने के लिए कानूनी लड़ाई लड़ रहे हैं।

गौरतलब है कि भारत सरकार ब्रिटेन से माल्या का प्रत्यर्पण कराने की कोशिश कर रही है। भारत में माल्या की कई संपत्तियां भी जब्त हो चुकी हैं। अब इस कारोबारी के हाथ से लंदन का घर भी निकलता दिख रहा है। माल्या पर बैंक फ्रॉड, मनी लॉन्डरिंग और बंद हो चुकी किंगफिशर एयरलाइंस पर 9000 करोड़ रुपए के लोन का मामला चल रहा है। 

खबरें और भी हैं...