दैनिक भास्कर हिंदी: मांग बढ़ने पर अधिक उड़ानें संचालित कर रही विस्तारा एयरलाइन (आईएएनएस एक्सक्लूसिव)

May 28th, 2020

हाईलाइट

  • मांग बढ़ने पर अधिक उड़ानें संचालित कर रही विस्तारा एयरलाइन (आईएएनएस एक्सक्लूसिव)

नई दिल्ली, 28 मई (आईएएनएस)। विस्तारा एयरलाइन के एक उच्च अधिकारी ने आईएएनएस को बताया कि इन दिनों विस्तारा में एक पर्याप्त घरेलू मांग दर्ज की गई है।

मांग बढ़ने से 25 मई को घरेलू सेवाएं शुरू होने के बाद एयरलाइन ने अधिक विमानों को सेवाओं में लगा दिया है और नए गंतव्य भी जोड़े हैं।

विस्तारा के साथ ही पूरा विमानन उद्योग कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए लागू राष्ट्रव्यापी बंद के कारण अर्थव्यवस्था के सबसे प्रभावित क्षेत्रों में से है।

विस्तारा ने 25 मई को 20 उड़ानों के साथ शुरूआत की थी। इसके बाद अब तक इसमें 20 और उड़ान सेवाएं जुड़ चुकी हैं।

इसके अलावा एयरलाइन ने अपने नए अधिग्रहीत बोइंग 787-9 ड्रीमलाइनर को बढ़ी हुई मांग के कारण दिल्ली-कोलकाता मार्ग पर तैनात किया है। पश्चिम बंगाल अंतिम राज्य है, जिसने घरेलू यात्री उड़ान संचालन को फिर से शुरू करने की अनुमति दी है।

एयरलाइन ने अप्रैल में अपने नए शामिल किए विमान को कोरोना महामारी के दौरान राहत सामग्री, चिकित्सा आपूर्ति और आवश्यक वाणिज्यिक वस्तुओं के परिवहन के लिए तैनात किया था।

विस्तारा के मुख्य वाणिज्यिक अधिकारी विनोद कन्नन ने आईएएनएस को बताया, कुछ मार्गों पर पर्याप्त मांग है और हम लोगों को उनके प्रियजनों के साथ पुनर्मिलन में मदद करने के लिए आने वाले हफ्तों में परिचालन को बढ़ाने के लिए तत्पर हैं।

उन्होंने कहा, इसने हमें 28 और 29 मई 2020 को दिल्ली-कोलकाता मार्ग पर भारत का पहला बोइंग 787-9 ड्रीमलाइनर तैनात करने में सक्षम बनाया है।

टाटा-एसआईए समर्थित कंपनी का हालांकि मानना है कि विकास के मामले में पहली जैसी स्थिति तक पहुंचने में कुछ समय लग सकता है।

उन्होंने कहा, कुछ समय के लिए हम केवल आवश्यक यात्रा की मांग की उम्मीद कर रहे हैं, क्योंकि छुट्टियां मनाने के लिए और व्यापारिक यात्रा के पहले जैसी स्थिति में आने में अभी भी कुछ समय लग सकता है।

केंद्र ने 25 मई से महानगरों और अन्य गंतव्यों के बीच समर शेड्यूल की लगभग एक तिहाई उड़ानों को संचालित करने की अनुमति दे दी है।

कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए लागू राष्ट्रव्यापी बंद के कारण यात्री हवाई सेवाओं को 25 मार्च को निलंबित कर दिया गया था।