वीकली रिपोर्ट: मई के दूसरे सप्ताह में तेजी से गिरा भारतीय शेयर बाजार

May 14th, 2022

हाईलाइट

  • इस सप्ताह सेंसेक्स 2041.96 अर्थात 3.72 % लुढ़का
  • निफ्टी भी मंदी की चपेट में आ गया

डिजिटल डेस्क, मुंबई। भारतीय शेयर बाजार मई के लगातार दूसरे सप्ताह में तेज गति से गिरे। प्रतीत होता है कि आने वाले दिनों में तेजड़िये अपनी पकड़ और खो सकते हैं। पिछले पूरे सप्ताह के दौरान भारतीय एवं वैश्विक कारकों के प्रभाव से सूचकांक में तीव्र विचलन रहा। तेल के ऊंचे मूल्य, रूस यूक्रेन युद्ध में अनिश्चितता, बढ़ती मुद्रास्फिति, यूएस फेड के द्वारा आक्रमक मुद्रा संकुचन नीति की संभावना, इन सभी के प्रभाव ने सेंटीमेंट को कमजोर कर दिया।

निर्विवाद रूप से, सर्वाधिक नकारात्मक सेंटीमेंट पूरे विश्व में मुद्रास्फिति में लगातार वृद्धि ही है। इस सप्ताह सेंसेक्स 2041.96 अर्थात 3.72 % लुढ़का।निफ्टी में 629.10 अर्थात 3.83% की गिरावट आयी। साथ ही,बैंक निफ्टी भी मंदड़ियों के प्रभुत्व के कारण मंदी की चपेट में आ गया।

किसी भी क्षेत्र विशेष ने तेजी के साथ समाप्ति नहीं दी। पूरे सप्ताह में निफ्टी एनर्जी 10.56% की गिरावट के साथ सबसे प्रमुख हानि का सूचकांक बना रहा, इसके पश्चात निफ्टी पीएसई, निफ्टी रियलिटी 5 से 6 प्रतिशत गिरे। निफ्टी के शेयरों में बजाज ऑटो में 4.07 % की तेजी रही, टाटा स्टील 14.54 % गिरा। इंडिया विक्स 23.48 पर बंद हुआ, जो तीव्र उतार चढ़ाव में किसी प्रकार की राहत न मिलने का संकेत है।

जब कभी मार्केट अपनी ऊँचाई से 20% गिर जाता है तो तकनीकी आधार पर यह मंदी के बाजार का संकेत माना जाता है। अभी भारतीय बाजार 15% गिरावट के आसपास है। तकनीकी रूप से, साप्ताहिक चार्ट पर निफ्टी में एक लांग बियरिश कैंडल बनाया है जो सकरात्मक से नकारात्मक ट्रेंड के परिवर्तन की पुष्टि करता है। पूरे सप्ताह में निफ्टी 16300 पर रेसिस्टेन्स का सामना करते रहा।आरएसआई अभी भी ओवेरसोल्ड क्षेत्र में बना हुआ है।

एमएसीडी भी संकेत दे रहा है कि अभी तुरंत में रिवर्सल की कोई संभावना नही है। दैनिक चार्ट में लोअर लो, लोअर हाई फार्मेशन किसी बड़ी तेजी की वापसी की संभावना को नकार रहे हैं। मासिक ओपन इंटरेस्ट डेटा में कॉल में सर्वाधिक ओपन इंटरेस्ट 16000 एवं उसके बाद 16500 की स्ट्राइक पर है।पुट में सर्वाधिक ओपन इंटरेस्ट 15500 तथा उसके बाद 15000 पर है।

कुलमिला कर, निफ्टी का सपोर्ट 15500 है।ऊपर की चाल आने पर 16100 फिर 16300 का स्तर तात्कालिक अवरोध के रूप में कार्य कर सकते हैं।साप्ताहिक चार्ट में बैंक निफ्टी का सपोर्ट 32200 तथा रेसिस्टेन्स 34300 है।

सुमीत बगड़िया
एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर
चॉइस ब्रोकिंग (Choice Broking)

Source: Choice India