दैनिक भास्कर हिंदी: नि:शुल्क बने पिंक ड्रायविंग लायसेंस, 127 महिला बनी रजिस्टर्ड चालक

December 7th, 2017

उमरिया डिजिटल डेस्क । महिलाओं तथा युवतियों को नि:शुल्क ड्रायविंग लायसेंस एक ही दिन तथा स्थान पर बन जाने से उनकी खुशी का पारावार नहीं रहा ।  शासन की मंशानुसार महिलाओं का सशक्त करने की दिशा में पिंक ड्रायविंग तथा शौर्य अभियान के तहत 127 महिलाओं का वाहन चालक के लिए पंजीयन हुआ है। बुधवार को निर्धारित आयु वर्ग की युवतियों का नामांकन करवाया गया।  महज चंद घण्टों की औपचारिकता में लाइसेंस मिलने पर युवतियों के चेहरे खिल उठे। उल्लेखनीय है कि यह पहल जिला सशक्तिकरण एवं परिवहन अधिकारी विभाग के संयुक्त तत्वाधान में की गईं।
10 महिलाएं टेस्ट में असफल
जिले के 18 वर्ष से अधिक उम्र की बालिकाओं या महिलाओं को नि:शुल्क  वाहन चालन पंजीयन के लिए शिविर आयोजित हुआ। जिला परिवहन कार्यालय में 127 महिलाओं का लर्निग ड्रायविंग लायसेंस टेस्ट हुआ। 137 महिलाएं व युवतियां भाग ली। 10 टेस्ट में असफल होने पर अपात्र मानी गईं। शेष को लर्निंग उपरांत लाइसेंस दिया जायेगा। ड्रायविंग लायसेंस एक ही दिन तथा स्थान पर बनान बुधवार को निर्धारित आयु वर्ग की युवतियों का नामांकन करवाया गया।चंद घण्टों की औपचारिकता में लाइसेंस मिलने पर युवतियों के चेहरे खिल उठे।
दो दिन हुए पंजीयन
ड्रायविंग लायसेंस के दौरान जिला परिवहन अधिकारी श्रीमती रमा दुबे एवं जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी सुश्री दिव्या गुप्ता ने स्वयं मौजूद रहकर शिविर का संचालन किया। बालिकाओं एवं महिलाओं को मार्गदर्शन देते औपचारिकताएं पूर्ण कीं। उन्होंने बताया बालिकाएं एवं महिलाएं किन्ही कारणों वष ड्रायविंग लायसेंस बनवाने के लिए नही पहुंची है। उनका  7 दिसंबर गुरूवार को भी लायसेंस निर्धारित प्रक्रिया अनुरूप बनाया गया ।लायसेंस एक ही दिन तथा स्थान पर बनान गुरूवार को निर्धारित आयु वर्ग की युवतियों का नामांकन करवाया। परिवहन कार्यालय में 137 महिलाएं व युवतियां का लर्निग ड्रायविंग लायसेंस टेस्ट हुआ। 27 टेस्ट में असफल होने पर अपात्र मानी गईं।10 बालिकाएं एवं महिलाएं किन्ही कारणों वष ड्रायविंग लायसेंस बनवाने के लिए नही पहुंची है।