वाशिम में हादसा : भीषण सड़क दुर्घटना में 5 की मौत, 7 गंभीर

February 18th, 2022

डिजिटल डेस्क,  वाशिम। नागपुर में भतीजे के विवाह समारोह में शामिल होने के बाद वापस अपने घर लौटते समय अपने ग्राम से मात्र 4 किमी पहले वाशिम-शेलूबाजार मार्ग पर ग्राम सोयता मोड़ के समीप मैक्सीमो वैन, सड़क किनारे खड़े ट्रैक्टर से पीछे से जा टकराई । इस भीषण हादसे में एक ही परिवार के 4 लोगों की मौके पर ही तो 1 की उपचार के दौरान मृत्यु हो गई । जबकि 7 अन्य गंभीर रुप से घायल हो गए जिनमें से 6 की हालत चिंताजनक होने की उन्हें उपचारार्थ अकोला भेजा गया है । यह भीषण हादसा मंगलवार रात 9 बजे के आसपास हुआ । इस भीषण हादसे की सूचना मिलते ही जिला पुलिस अधीक्षक बच्चन सिंह कुछ ही मिनटों में रात को ही घटनास्थल पर पहुंच गए ।

प्राप्त जानकारी के अनुसार नागपुर में अपनी भतीजी के विवाह समारोह में शामिल होने के बाद वाशिम तहसील के ग्राम सावंगा जहांगीर अपने घर मैक्सीमो वैन क्रमांक एमएच 48 पी 1445 में सवार होकर आ रहे थे की मंगलवार रात 9 बजे के आसपास वाशिम-शेलूबाजार मार्ग पर ग्राम सोयता मोड़ के समीप सड़क किनारे खड़े एक ट्रैक्टर क्रमांक एमएच 37 ए 9287 से बारातियों से भरी मैक्सीको वैन पीछे से जा टकराई । हादसा इतना ज़बरदस्त था की वैन का सामने का हिस्सा चकनाचुर हो गया।

गवई परिवार पर वज्राघात {इस भीषण हादसे में सावंगा जहांगीर निवासी एक ही परिवार के भारत शंकर गवई (37), पुनम भारत गवई (30), सम्राट भारत गवई (13) तथा आकांक्षा भारत गवई (7) की मौके पर ही मौत हो गई जबकि गंभीर रुप से घायल विशाल अशोक पट्टेबहादुर (21) नि. सावंगा जहाँगीर ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया । इसके अलावा वृषभ गजानन खिल्लारे, रंजीत महादेव गायकवाड, संदेश बबन रोकडे, अजय खिल्लारे, महादेव शंकर गवई, गणेश लक्ष्मण गायकवाड, धनंजय महादेव तायडे गंभीर रुप से घायल हो गए । घयलों को वनोजा के सालुंकाबाई राऊत महाविद्यालय के आपदा व्यवस्थापन पथक तथा पिंजर के संत गाडगेबाबा आपदा व्यवस्थापन पथक ने बाहर निकालकर एम्बुलेन्स से उपचारार्थ वाशिम भेजा गया । घायलों में से 6 की हालत चिंताजनक होने के कारण उन्हें आगे के उपचार हेतु अकोला भेजा गया । सोयता में जिस स्थान पर दुर्घटना हुई वहां से मृतक परिवार का गांव सावंगा जहांगीर मात्र 4 किलोमीटर दूर था लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था जो घर पहुंचने से पूर्व ही परिवार के चारों सदस्यों की मृत्यु हो गई । इस मामले में ग्राम सोयता के पुलिस पटेल सुधाकर गंगाराम राऊत की फरियाद पर जऊलका रेलवे पुलिस स्टेशन में अपराध दर्ज कर इस हादसे के लिए जिम्मेदार ट्रैक्टर चालक दिपक देवराव भालेराव निवासी तांदली को हिरासत में लिया है । आगे की जांच जऊलका के थानेदार अजिमनाथ मोरे के मार्गदर्शन में पुलिस उपनिरीक्षक प्रणिल पाटिल कर रहे है ।

रात में ही दुर्घटनास्थल पर पहुंचे जिला पुलिस अधीक्षक बच्चन सिंह {इस भीषण हादसे की सूचना मिलते ही मंगलवार रात को ही जिला पुलिस अधीक्षक बच्चन सिंह सह दलबल दुर्घटना स्थल पर पहुंचे और मृतकों के साथही सभी घायलों को चिकित्सालय भेजने की व्यवस्था की । इस अवसर पर पुलिस कप्तान बच्चन सिंह के साथ अपर पुलिस अधीक्षक गोरख भामरे, स्थानीय अपराध शाखा के पुलिस निरीक्षक सोमनाथ जाधव के साथही पुलिस के आला अफसर व कर्मचारी भी मौजुद थे । पुलिस कप्तान बच्चन सिंह ने दुर्घटनास्थल पर भीड़ को नियंत्रित करने के साथही यातायात सुगम करने में भी सहयोग दिया । पुलिस कप्तान बच्चन सिंह की तत्परता व सहदयता से गंभीर रुप से घायलों को तत्काल उपचारार्थ चिकित्सालय भेजने में मदद मिली । इसी प्रकार निवासी उपजिलाधिकारी शैलेष हिंगे ने बताया कि उन्होंने भी दुर्घटना की जानकारी मिलने पर अपने अधिनस्थ कर्मचारियों को तत्काल मौके पर सहायता के लिए रवाना किया । हिंगे ने यह भी बताया कि मंगलवार रात को ही कुछ मिनटों में दुर्घटनास्थल पर 4 एम्बुलेन्स भी भेजी गई । इसी प्रकार दुर्घटनाग्रस्त मैक्सीमो वैन के पीछे एक वाहन में अकोला से वाशिम लौट रहे जिला पत्रकार संघ के अध्यक्ष माधवराव अंभोरे, पत्रकार नंदकिशोर शिंदे तथा शिवसेना के वाशिम तहसील प्रमुख रामदास मते पाटिल ने भी तत्काल हरकत में आते हुए दुर्घटनाग्रस्त मैक्सीमों वैन में से घायलों को बाहर निकालने के साथही इस दुर्घटना की जानकारी पुलिस के साथ-साथ जिला सामान्य चिकित्सालय व एम्बुलेन्स को भी दी, जिससे जिला प्रशासन के साथ-साथ पुलिस प्रशासन व जिला सामान्य चिकित्सालय प्रशासन को भी इस दुर्घटना की जानकारी तत्काल मिली और सभी मौके पर पहुंचे।