comScore

बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व - ताला का कोर एरिया फुल, बफर में भी हुई सफारी

बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व - ताला का कोर एरिया फुल, बफर में भी हुई सफारी

डिजिटल डेस्क उमरिया । दो दिन से मौसम खुलते ही वन्यजीव प्रेमियों ने बांधवगढ़ में डेरा डाल दिया है। 30 जून के बाद वन विभाग कोर एरिया की सफारी बंद कर रहा है। बारिश के सीजन में केवल बफर जोन में ही पर्यटन चालू रहेगा। सीजन के आखिरी दिनों में लोग जंगल का रोमांच देखने पहुंच रहे हैं। 28 जून को ताला जोन पर्यटकों से फुल रहा। 
दिनभर में 148 लोगों ने बांधवगढ़ की प्राकृति वन्य सुंदरता का लुत्फ लिया। ताला में कुल 27 वाहन पर्यटकों को लेकर गए। इस तरह कोर एरिया में कुल 121 लोगों ने सफारी की। इनमें 97 ने ऑनलाइन व 24 ने काउंटर से टिकट लेकर पर्यटन किया। संख्या अधिक होने पर काउंटर से बफर जोन की डिमांड भी रही। 27 लोगों ने यहां से एंट्री हासिल की। सात गाडिय़ां धमोखर बफर जोन में भेजी गईं। मौसम खुलते ही पहुंचे पर्यटक 
लॉकडाउन के चलते मार्च से मई तक बीटीआर में पर्यटन बंद था। करीब तीन माह बाद 15 जून से दोबारा पर्यटन चालू हुआ। हालांकि केवल ताला कोर जोन व बफर में सैलानियों की एंट्री की गई थी। बारिश के चलते पहले पांच दिन में पर्यटक वाहनों की संख्या तीन अंकों तक नहीं पहुंची। जबकि एक जोन में सामान्य दिनों में 27-28 वाहनों में डेढ़ सौ से अधिक पर्यटक भ्रमण में जाते हैं। 20 जून के बाद मौसम खुला। धूप निकलने के बाद पर्यटकों को वनराज भी दिखे और अब आखिरी दौर में भीड़ बढ़ चुकी है।
13 हेक्टेयर वन भूमि अतिक्रमण मुक्त
बारिश का सीजन पूरे शबाब में आते ही टाईगर रिजर्व प्रबंधन अलर्ट मोड में है। 15 दिन से वन विभाग भोपाल के निर्देशानुसार सभी रेंजों में अतिक्रमण विरोधी मुहिम चलाई जा रही है। इसके तहत मानपुर, धमोखर व पनपथा रेंज में 13 हेक्टेयर वन भूमि को अतिक्रमण मुक्त करवाया। यहां लोगों ने अस्थाई सुरक्षा बाड़ व टीन शेड लगाकर कब्जा किया था। अभियान के दौरान मानपुर रेंज में देवरी से दो हेक्टेयर में बेदखली की कार्रवाई हुई। बिजौरी में आठ, पनपथा के पड़वार गांव में एक हेक्टेयर तथा धमोखर के गोरैया में दो हेक्टेयर जमीन वापस वन विभाग को मिली। यह कार्रवाई रेंजर पवन ताम्रकर, विजय शंकर श्रीवास्तव तथा वीरेन्द्र ज्योतिषी ने संचालक विंसेंट रहीम व उप संचालक सिद्धार्थ गुप्ता के मार्गदर्शन में की।
इनका कहना है
वन विभाग से प्राप्त निर्देशानुसार 30 जून के बाद बांधवगढ़ कोर एरिया में पर्यटन बंद कर दिया जाएगा। हालांकि सैलानी बफर जोन के परोसी, पचपेढ़ी व धमोखर में घूम सकेंगे।
सिद्धार्थ गुप्ता, उपसंचालक बीटीआर 
 

कमेंट करें
TJtdo