comScore

रक्तदान जीवनदान के समान -श्रम राज्य मंत्री

October 12th, 2020 15:25 IST
रक्तदान जीवनदान के समान -श्रम राज्य मंत्री

डिजिटल डेस्क, जयपुर। 11 अक्टूबर। श्रम राज्य मंत्री श्री टीकाराम जूली ने कहा कि रक्तदान महादान की श्रेणी में आता है। जब व्यक्ति मौत के मुँह में होता है तब किसी के रक्तदान द्वारा उसे प्राण प्रदान किए जाते हैं इसलिए रक्तदान सभी का पुनीत कर्तव्य है। अतः रक्तदान को जीवनदान के समान है। श्री जूली रविवार को अलवर के रूपबास स्थित जगन्नाथ मंदिर के पास आयोजित रक्तदान शिविर में मुख्य अतिथि के रूप में भाग लेकर उपस्थित रक्तदाताआें को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आज समाज में रक्तदान के प्रति जागरूकता को देखते हुए स्वस्थ समाज की कल्पना करना सहज हो गया है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी के इस दौर में अन्य गम्भीर बीमारियों से ग्रसित मरीजों एवं दुर्घटनाग्रस्त जरूरतमंद मरीजों के लिए यह रक्तदान की बहुत आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि इस शिविर से रक्तदान शिविर आयोजकों एवं रक्तदाताओंं को प्रेरणा मिलेगी। उन्होंने युवाओं से आह्वान किया कि समय-समय पर रक्तदान कर जरूरतमंदों को जीवनदान देने का पुनीत कार्य करें। शिविर में 213 यूनिट रक्तदान करने पर आभार जताते हुए कहा कि इस भौतिक युग मानवता जीवित रखने हेतु सद्भाव एवं सहयोग अपरिहार्य है। इस अवसर पर स्थायी जनप्रतिनिधि संबंधित अधिकारी मौजूद थे। इस दौरान पूर्व विधायक श्री राजेन्द्र गंडूरा, सरस डेयरी चेयरमैन श्री बन्नाराम मीना, जिला उपभोक्ता संरक्षण मंच की सदस्य श्रीमती दीपशिखा मीना, श्री योगेश मिश्रा, श्री राजू पहलवान, श्री प्रदीप आर्य, श्री रामबहादुर तॅंवर, श्री अनिल जैन, श्री प्रकाश गंगावत, श्री हिरेन्द्र शर्मा, श्री प्रमेन्द्र शर्मा, श्री रामजीलाल मीना, श्री रिपू दमन, श्री प्रशांत राजा, श्री दशरथ सिंह, श्रीमती कविता यादव, श्री प्रेम पटेल, श्री विक्रम यादव, श्री मुकेश सारवान, श्री प्रितम सिंह, श्री नारायण साईवाल, श्री पुष्पेन्द्र धाबाई, श्रीमती जीत कौर सांगवान, श्री प्रमोद आर्य, श्री मानवेन्द्र सिंह, श्री राकेश बैरवा, श्री विश्राम मीना, श्री जयराम पायलट, श्री रमेश मीना सहित बडी संख्या में प्रबुद्ध नागरिक उपस्थित थे।

कमेंट करें
2p3Zl