दैनिक भास्कर हिंदी: करेली के जवान की सीमा पर संदिग्ध मौत, सेना के अधिकारी कर रहे हैं जांच 

August 27th, 2019

डिजिटल डेस्क,करेली। नरसिंहपुर जिले के ग्राम करपगॉव निवासी एक जवान की सीमा पर हुई मौत से पूरे गांव में सन्नाटा है । मौत संदिग्ध है और सेना के अधिकाराी इसकी जांच कर रहे हैं। दिवंगत नीतेश पिता सुखनंदन दुबे भारतीय सेना में असम के मीसामरी आर्मी कैम्प तेजपुर में पदस्थ थे । बेटे की मौत की खबर सुन मां बाप स्तब्ध हो गये नीतेश के  चचेरे भाई विपिन दुबे ने बताया कि एक दिन पहले नीतेश से बात हुई थी तब सबकुछ ठीक चल रहा था अगले दिन 26 अगस्त को सुबह करीब 9 बजे फोन से सूचना मिलती है कि उनके बेटे ने आर्मी कैंप में सुबह करीब पौने 8 बजे सुसाईट कर ली और पार्थिव शरीर आवश्यक खानापूर्ति के बाद 27 अगस्त की शाम तक भेजा जायेगा। इसके बाद परिवार के सदस्य  फोन कर अधिकारियों से लगातार मौत का कारण और घटना की जानकारी लेते रहे जिसकी किसी भी प्रकार की सूचना परिजनों को अब तक नही मिल पायी है। वही परिजन अब भी बेटे की आत्महत्या वाली बात स्वीकार नहीं कर पा रहे है उनका कहना है कि उनका बेटा बहुत बहादुर और कर्मठ था। अचानक नीतेश की मौत की खबर से ग्रामीणों सहित क्षेत्र में हत्या आत्महत्या के भी कयास लगाये जा रहे है। ग्रामीणों का कहना है कि एक दिन पूर्व तक परिजनों से बातचीत में किसी भी प्रकार की परेशानी का जिक्र नही था और अचानक इस तरह की खबर से लोग हतप्रद है। वही सैनिक कल्याण बोर्ड के अधिकारी भी किसी घटना अस्पष्ट बता रहे है। जिसमें जांच रिपोर्ट और यूनिट अधिकारियों की जानकारी के बाद ही सूचना देने का कह रहे है।

इनका कहना है

यूनिट इंचार्ज की सूचना अनुसार एक इंसीडेंट या एक्सीडेंट में नीतेश दुबे का निधन हुआ है, पोस्टमार्टम के बाद कोर्ट ऑफ इंक्वाइरी बैठी है उसके रिजल्ट के बाद ही पूरी जानकारी उपलब्ध हो पायेगी। पार्थिव शरीर 28 अगस्त को भोपाल सुबह 10 बजे पहुंचेगा उसके बाद शाम तक ग्राम करपगांव पहुंचेगा।

अतुल कुमार सक्सेना जिला सैनिक कल्याण अधिकारी

तत्संबंध मे कोई लिखित सूचना नही है एसडीएम गाडरवारा और सैंनिक कल्याण अधिकारी की जानकारी आयी है। मृत्यु का कारण अभी स्पष्ट नही है ।अधिकारिक जानकारी पार्थिव शरीर मिलने के बाद दस्तावेजों की जानकारी से ही उपलब्ध होगी।मनोज ठाकुर अपर कलेक्टर नरसिंहपुर
 

खबरें और भी हैं...