• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Coronavirus in Madhya Pradesh Live Update COVID19 Total patients in MP death toll Cases Bhopal Indore news

दैनिक भास्कर हिंदी: Corona MP: मप्र में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 7000 के पार, अब तक 305 लोगों की मौत

May 27th, 2020

हाईलाइट

  • मध्यप्रदेश में कोरोना के मामले 7000 के पार
  • 300 से ज्यादा की मौत, 3689 मरीज हुए स्वस्थ

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। राज्य में कोरोना के मामले अब 7000 से ज्यादा हो गए हैं और मरने वालों की संख्या 305 तक पहुंच गई है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा मंगलवार को जारी बुलेटिन के मुताबिक, बीते 24 घंटों के दौरान 165 नए मरीज पाए गए हैं और पांच मरीजों की मौत हुई है। इसी के साथ कोविड-19 के कुल मामले 7024 हो गए। मरने वाले कुल मरीजों की संख्या 305 हो गई है।

इंदौर में कोरोना के कुल 3103 मामले
इंदौर में 39 नए केस सामने आने से यहां मरीजों की संख्या बढ़कर 3103 हो गई। वहीं भोपाल में कुल 1303 मरीज हो गए हैं। इसी तरह उज्जैन में कुल 601 मरीज हैं। अब तक इंदौर में 117, भोपाल में 49, उज्जैन में 54 मरीजों की मौत हुई है।

24 घंटे में 118 मरीज हुए ठीक
वहीं बीते 24 घंटों में 118 मरीज स्वस्थ हुए हैं, जबकि अब तक कुल 3689 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। इनमें सबसे ज्यादा इंदौर से 1484 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे हैं। भोपाल में 826 मरीज ठीक हुए हैं। बता दें कि, कोरोना से संक्रमित होने के बाद स्वस्थ हुए लोग अगर चाहें तो अपना 400 मिलीलीटर प्लाजा दान कर तीन मरीजों को कोरोना से मुक्ति दिला सकते हैं।

मप्र में कोरोना का रिकवरी रेट 53 प्रतिशत
मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के प्रयास भी जारी हैं। राज्य में मरीजों का रिकवरी रेट 53 फीसदी हो गया है। यह जानकारी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दी। मुख्यमंत्री चौहान ने मंगलवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश की कोरोना की स्थिति और व्यवस्थाओं की समीक्षा करते हुए कहा, प्रदेश में बड़ी संख्या में कोरोना के मरीज स्वस्थ होकर घर जा रहे हैं। प्रदेश की कोरोना रिकवरी रेट अब 53 प्रतिशत हो गई है। देश का रिकवरी रेट 41.8 प्रतिशत है। इसी प्रकार राज्य में कोरोना की डबलिंग रेट 21 दिन हो गई है। वहीं देश की कोरोना डबलिंग रेट करीब 15 दिन है।

मरीजों की जल्द पहचान से मृत्युदर में आई कमी
इंदौर जिले की समीक्षा के दौरान कलेक्टर मनीष सिंह ने बताया, इंदौर में सघन सर्वे तथा टेस्ट के माध्यम से मरीजों की जल्द पहचान से मृत्युदर में कमी आ रही है। इंदौर की कोरोना मृत्युदर 3.6 है और प्रदेश की 4.1 प्रतिशत है और भारत की 2.6 प्रतिशत है। बीते सप्ताह इंदौर की कोरोना मृत्युदर 1.08 प्रतिशत रही। कोरोना मरीजों की डबलिंग रेट बढ़कर 30 दिन हो गई है। शहर के संक्रमित वार्ड की संख्या 79 से 62 रह गई है।

इंदौर में बन रहा 500 बिस्तर वाला सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल
इंदौर कलेक्टर ने बताया, इंदौर में फीवर क्लीनिक अच्छा कार्य कर रही हैं। इनमें स्वास्थ्य जांच की जा रही है। हर फीवर क्लीनिक पर एम्बुलेंस की व्यवस्था भी की गई है। निजी व शासकीय दोनों क्षेत्रों में फीवर क्लीनिक शुरू की गई हैं। इंदौर में 500 बिस्तर वाला सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल भी बन रहा है, जिसमें 15 जून के आस-पास काम भी शुरू हो जाएगा।

इंदौर संभाग के सभी जिलों की स्थिति में सुधार
इंदौर के संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी ने बताया, इंदौर संभाग के सभी जिलों की स्थिति में निरंतर सुधार हो रहा है। धार में 114 में 104 डिस्चार्ज हुए, खरगौन में 119 में 95, खंडवा में 232 में 184, बड़वानी में 41 में से 30 तथा झाबुआ में 13 में से 6 कोरोना मरीज डिस्चार्ज होकर घर चले गए हैं।