दैनिक भास्कर हिंदी: उमरिया में नदी- नाले उफान पर, 24 घण्टे में 8.73 इंच बारिश

September 8th, 2018

डिजिटल डेस्क, उमरिया। उमरिया में बीती रात 12 बजे से शुरु हुई मूसलाधार बारिश का दौर शाम छह बजे तक जारी रहा। मौसम विभाग ने चौबीस घण्टे में 8.73 इंच बारिश रिकार्ड की है। लगातार बारिश से उमरार, जोहिला व क्षेत्रीय नदियों का जल स्तर तेजी से बढ़ा है। उमरार का खलेशर, लालपुर पुल, बिरसिंहपुर पाली में पोड़ी रपटा, करकेली में बन्नानाला, चंदिया में खितौली पहुंच मार्ग, मानपुर-बिजौरी व धमोखर मार्ग के छोटे पुल नदी में डूब गए। जिला मुख्यालय के उमरार बांध में तीन साल बाद पानी नदी के लिए ओवर फ्लो हुआ। शहर में उमरार किनारे तीन बस्तियों में नदी का पानी बस्तियों की ओर बढ़ रहा है।

नगर पालिका सीएमओ ने बताया सुबह से खलेशर, कैम्प, नईमाटोला के निचले इलाकों से लोगों को सुरक्षित ठिकानों पर पहुंचाया जा चुका है। कलेक्टर माल सिंह ने बताया चंदिया में बांका-खितौली करचुलिहा पुल, धमोखर, मानपुर-बिजौरी तथा पाली व नौरोजाबाद क्षेत्र के चिन्हित पुल नदी, नाले की चपेट में आए हैं। स्थानीय अधिकारियों को मौका मुआयना कर तत्काल मदद के लिए तैनात किया गया है।

आकाशीय बिजली गिरने से पांच झुलसे
जिला मुख्यालय स्थित उमरार डैम घूमने गए पांच युवक गुरुवार शाम आकाशीय बिजली की चपेट में आ गए। इनमे से एक युवक का हाथ कुछ ज्यादा ही झुल गया, जिससे युवक की हालत गंभीर बताई गई है। पांचों को जिला अस्पताल में उपचार जारी है। मिली जानकारी अनुसार संतोष बर्मन पिता मन्नी लाल निवासी खलेसर, फिरोज पिता शेख बसीर, अमजद पिता जहागीर, शेख जाहिद पिता शहादत तथा राजू कोल पिता परसादी निवासी टोलवा उमरार डैम घूमने गए थे। शाम तकरीबन पांच बजे अचानक बादलों से तेज गर्जना के साथ बिजली गिरी। पांचो युवक बिजली के तेज से झुलस गए।

इनमे संतोष बर्मन के हाथ में गंभीर चोट आई है। इसी तरह फिरोज के शरीर से काफी खून निकल रहा था। लोगों की मदद से जिला अस्पताल भर्ती कराया गया। सिविल सर्जन डॉ. व्हीपी पटेल ने बताया घायलों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।  बाणसागर जलाशय का भराव 341 मीटर हुआ पूर्ण, सभी 18 गेट खोले गए।

खबरें और भी हैं...