comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

अलग-अलग जगह आग लगने से गृहस्थी खाक - बालक समेत तीन झुलसे, तीन भैंसों की मौत

अलग-अलग जगह आग लगने से गृहस्थी खाक - बालक समेत तीन झुलसे, तीन भैंसों की मौत

डिजिटल डेस्क सतना। जिले के अलग- अलग थाना क्षेत्रों में आग लगने की घटनाओं में दो जगह गृहस्थी खाक हो गई, वहीं बचाने के प्रयास में बालक समेत तीन लोग झुलस गए तो तीन भैंसों की जान चली गई। धारकुंडी थाना क्षेत्र के देवगांव-डांडीटोला में बीते दिन सुबह तकरीबन 10 बजे देवमन मिश्रा पुत्र बजरंग प्रसाद मिश्रा के घर से लगे जानवरों की सार में आग लग गई। इस दौरान वहां मौजूद उनका 7 वर्षीय बेटा रजनीश मिश्रा मवेशियों को बाहर निकालने के लिए अंदर चला गया, मगर वह भैंसों को खूंटे से खोल पाता उसके पहले ही लपटें तेज हो गईं। यह देखकर बालक कमरे में रखे तख्त के नीचे छिप गया। आग के विकराल रूप लेते ही देवमन ने ग्रामीणों के साथ मिलकर बचाव के प्रयास शुरू कर दिए। फायर ब्रिगेड और डॉयल 100 को भी सूचित किया गया। लगभग एक घंटे की जद्दोजहद के बाद आग बुझाकर अंदर फंसे रजनीश को निकाला गया, तख्त के नीचे छिपे रहने से उसकी जान बच गई। उसके सीने और हांथ-पैर आंशिक रूप से झुलस गए, जिस पर फौरन इलाज के लिए बिरसिंहपुर अस्पताल ले जाया गया। इस घटना में तीन भैंसों की मौत हो गई तो एक भैंस बुरी तरह झुलस गई।
उचेहरा थाना अंतर्गत खूझा गांव में बुधवार दोपहर को तकरीबन ढाई बजे रामकिशोर कुशवाहा के खेत में आग लग गई, जिसकी चिंगारी हवा के साथ घर तक पहुंच गईं और देखते ही देखते पूरा मकान लपटों से घिर गया। पीडि़त ने परिजनों और ग्रामीणों की मदद से आग बुझाने के प्रयास शुरू किए तो फायर ब्रिगेड को भी बुलाया गया। लगभग दो घंटे की कोशिशों के पश्चात आग तो बुझा ली गई, मगर इस घटना में मकान समेत अनाज, कपड़े, बर्तन, दैनिक जरूरत का सामान, दो साइकल, मोटर पंप और मोटर साइकल खाक हो गई। आग बुझाने के प्रयास में रामकिशोर और उसकी बेटी भी झुलस गए। मौके पर तहसीलदार अजयराज सिंह और एसआई आकाश बागड़े दलबल के साथ पहुंचे थे।
यहां भी आग से मचा हड़कंप—-
उचेहरा क्षेत्र के खूझा गांव के साथ ही बिहटा में एक बार फिर भीषण आग आग भड़क उठी। घटना में खूझा के 9 किसानों की फसल नष्ट हो गई। उधर गनीमत यह रही कि बिहटा में अधिकंाश खेतों से फसल कट गई थी, जिससे नुकसान नहीं हुआ, मगर हवा के साथ आग बस्ती की तरफ बढऩे लगी। घबराए ग्रामीणों ने फौरन ही पुलिस और राजस्व अमले को सूचित किया तो नगर पंचायत के दमकल समेत नागौद, मैहर और सतना से आधा दर्जन फायर ब्रिगेड बिहटा भेजे गए, जिनके द्वारा दो घंटे तक पानी का छिड़काव कर आग पर काबू पाया गया, तब जाकर सभी ने राहत की सांस ली। उधर कोठी क्षेत्र के दिदौंध- भटिया से लगे जंगलों एवं झंडा गांव में किसानों के खेतों में आग भड़क गई थी, तेज हवा के साथ लपटें बढ़ती जा रहीं थीं। तब ग्रामीणों की सूचना पर थाना प्रभारी शेषमणि पटेल फायर ब्रिगेड लेकर मौके पर गए और स्थानीय लोगों की मदद से आग बुझाई। एक अन्य घटना रामनगर थाना क्षेत्र के गैलहरी नईबस्ती में सामने आई, जहां मोहन साकेत के खलिहान में आग लगने से गेंहू की फसल खाक हो गई। मगर इन घटनाओं में किसानों को खासा नुकसान उठाना पड़ा है। सभी जगह राजस्व अमले के द्वारा नुकसान का आंकलन किया जा रहा है।
 

कमेंट करें
puxPY