दैनिक भास्कर हिंदी: MP Govt Jobs: शिवराज के ऐलान पर बोले कमलनाथ- अगर यह चुनावी घोषणा बन कर रह गया तो कांग्रेस चुप नहीं बैठेगी

August 18th, 2020

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश में अब राज्य के स्थानीय लोगों को ही सरकारी नौकरियां मिल सकेंगी। सीएम शिवराज सिंह चौहान के ऐलान के बाद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि राज्य सरकार 15 साल बाद आज युवाओं के रोजगार को लेकर नींद से जागी है, लेकिन कहीं यह आगामी उपचुनावों को देखते हुए मात्र चुनावी घोषणा बन कर न रह जाए, इस बात का ध्यान रखें नहीं तो कांग्रेस चुप नहीं बैठेगी।

कमलनाथ ने अपने कार्यकाल में लिए गए फैसलों का जिक्र करते हुए ट्वीट कर कहा कि मैंने अपनी 15 माह की सरकार में प्रदेश के युवाओं को प्राथमिकता से रोजगार मिले, इसके लिए कई प्रावधान किए। मैंने हमारी सरकार बनते ही उद्योग नीति में परिवर्तन कर 70% प्रदेश के स्थानीय युवाओं को रोजगार देना अनिवार्य किया। हमने युवा स्वाभिमान योजना लागू कर युवाओं को रोजगार मिले, इसके लिए कई महत्वपूर्ण निर्णय किए। 

शिवराज सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, आपकी 15 साल की सरकार में प्रदेश में बेरोजगारी की क्या स्थिति रही, यह किसी से छिपी नहीं। युवा हाथो में डिग्री लेकर नौकरी के लिये दर-दर भटकते रहे। क्लर्क और चपरासी की नौकरी तक के लिये हजारों डिग्री धारी लाइनों में लगते रहे। मजदूरों और गरीबों के आंकड़े इसकी वास्तविकता खुद बयां कर रहे हैं। अपनी पिछली 15 साल की सरकार में कितने युवाओं को आपकी सरकार ने रोजगार दिया, यह भी पहले आपको सामने लाना चाहिए।

सरकारी नौकरियों में मध्यप्रदेश के लोगों के आरक्षण के ऐलान को लेकर कमलनाथ ने कहा कि 15 वर्ष बाद आज युवाओं के रोजगार को लेकर शिवराज सरकार नींद से जागी है। आज आपने प्रदेश के युवाओं को प्राथमिकता से नौकरी देने के हमारे निर्णय के अनुरूप ही घोषणा की, लेकिन यह पहले की तरह ही सिर्फ घोषणा बन कर ही ना रह जाए, प्रदेश के युवाओं के हक के साथ वर्तमान में भी छलावा न हो, वे ठगे ना जाए, यह आगामी उपचुनावों को देखते हुए मात्र चुनावी घोषणा बन कर ना रह जाए, इस बात का ध्यान रखें अन्यथा कांग्रेस चुप नहीं बैठेगी।

शिवराज का बड़ा ऐलान: मध्य प्रदेश में सिर्फ MP के लोगों को ही मिलेंगी सरकारी नौकरियां, सरकार जल्द लाएगी कानून

बता दें कि कोरोना संकट के दौर में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऐलान किया है कि अब मध्यप्रदेश की सभी सरकारी नौकरियां सिर्फ राज्य के लोगों को ही मिलेंगी। इसके लिए जल्द ही जरूरी कानूनी बदलाव पेश किए जाएंगे।

खबरें और भी हैं...