वन विभाग को सिर्फ पगमार्क मिले: अब वर्धा रोड पर दिखा तेंदुआ, राहगीर ने कहा - शावक के साथ बाघ भी देखा

December 5th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। गत 3 दिन पहले वाड़ी के रिहायशी इलाके में सीसीटीवी में कैद हुए तेंदुए की वापस अंबाझरी आने की खबर के बाद वन विभाग चैन की सांस ले रहा था कि अब वर्धा रोड पर भी तेंदुआ देखे जाने की बात सामने आई है। वन विभाग की टीम वर्धा रोड पर फिर सर्च अभियान में जुट गई है। बताया गया कि वर्धा रोड स्थित सहारा सीटी के पास एक व्यक्ति ने तेंदुए को सड़क पार करते हुए देखा। साथ में नन्हा शावक भी था। हालांकि अभी तक वन विभाग को प्रमाण के तौर पर केवल तेंदुए के पदचिह्न ही मिल सके हैं। 

वाहनधारक ने बताया बाघ है 

शुक्रवार की रात को वन विभाग के एसीएफ को एक वाहनधारक ने फोन कर बताया कि वह वर्धा रोड सहारा सिटी के पास से बोल रहा है। उसने यहां एक बाघिन को शावक के साथ खेत से निकल झाड़ियों में जाते हुए देखा। वन विभाग ने तुरंत अपनी टीम को घटनास्थल पर भेजा। रात भर खोजबीन चली। हालांकि बाघिन नहीं दिखाई दी। व्यक्ति के बताए जगह का निरीक्षण करने पर यहां पदचिह्न तो मिले, लेकिन वह तेंदुए के थे, लेकिन किसी शावक के पदचिह्न नहीं मिले। मतलब तेंदुआ अकेला था और व्यक्ति ने कहा कि उसने शावक को भी देखा था। वन विभाग की टीम ने वहां कैमरा ट्रैप आदि की व्यवस्था की है।  

वाड़ी में दिखे तेंदुए को टीम ने भी ओझल होते देखा : 1 दिसंबर को वाड़ी के रिहायशी इलाके के पास लगे सीसीटीवी फुटेज में एक तेंदुआ दिखाई देने से लोगों में दहशत का माहौल था, लेकिन वन अधिकारियों की मानें तो तेंदुआ वापस अंबाझरी परिसर में आ गया है। खुद पेट्रोलिंग की टीम ने इसे देखा गया। बताया गया कि वाड़ी में तेंदुए की खबर फैलते ही सर्च अभियान में गई फॉरेस्ट की टीम खोजबीन कर शुक्रवार की रात को लौट रही थी,  इसी दौरान अंबाझरी परिसर में तेंदुआ आमने-सामने दिखाई दिया। वन विभाग ने कहा कि  यहां पहले से तेंदुआ मौजूद है, जो बार-बार इधर से उधर जाते रहता है।