दमोह: आर आई को 5 हजार रुपए की रिश्वत लेते लोकायुक्त की टीम ने दबोचा

March 21st, 2022

डिजिटल डेस्क दमोह । दमोह के तहसील कार्यालय में पदस्थ आरआई मनीराम गौंड  पिता भग्गू गौड़ 52 वर्ष निवासी ऑफिसर कालोनी दमोह राजस्व निरीक्षक दमोह -2 को सागर लोकायुक्त पुलिस ने  5 हजार रुपए की रिश्वत लेते उनके निवास पर दबोच लिया। रिश्वत में पकड़े जाने की खबर पूरी तहसीली में आग की तरफ फैली और आर आई के कार्यालय में भीड़ जमा हो गई। मनीराम ने 5 हजार रुपए की रिश्वत जबलपुर नाका निवासी पंकज कुमार जैन पिता स्वंत्रत कुमार जैन 39 वर्ष से जमीन का सीमांकन कराए जाने के नाम पर ली थी।  आरआई के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है।
चक्कर लगा रहा था आवेदक से
इस मामले में आवेदक पंकज जैन ने बताया कि मारूताल में पौने तीन एकड़ और मड़ाहार में करीब दो एकड़ जमीन हैं। जिसके सीमांकन  के नाम पर 11 हजार रुपए की मांग आर आई मनीराम  ने की थी। इसके बाद 5 हजार रुपए दिए थे, फिर एक हजार रुपए एडवांस में ले लिये थे। फिर भी आर आई उन्हे चक्कर लगवा रहा था। आर आई का कहना था कि पहले पूरे रुपए दो इसके बाद सीमांकन किया जाएगा। आर आई से प्रताड़ित होकर मामले की शिकायत सागर जाकर लोकायुक्त में की थी। इसके बाद आर आई से
बाकी के  5 हजार रुपए सोमवार को देने की बात हुई थी। दोपहर करीब 12 बजे जैसे ही उसने आरआई मनीराम को 5 हजार रुपए की रिश्वत उनके आफिसर कालोनी स्थित सरकारी आवास में दी वैसे ही लोकायुक्त की टीम के निरीक्षक मंजू सिंह सहित टीम  ने उसे पकड़ लिया।  इसके बाद टीम आरोपी को तहसील लेकर पहुंची और आगे की कार्यवाही की। उसके हाथ भी धुलवाए गए। 
बताया जा रहा है कि पंकज जैन की जमीन के सीमांकन के केस में  तहसीलदार ने आदेश जारी कर दिए थे। यह आदेश आरसीएमएस में अपलोड भी हो गया था। इसकी जानकारी आरआई को थी, लेकिन इसके बाद भी उसने पंकज जैन से रिश्वत की मांग की ओर कहा कि बिना रिश्वत दिये जमीन का सीमांकन  का काम नहीं होता है।
निरीक्षक मंजू सिंह ने बताया कि मामले में पकड़े गए आर आई पर भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

खबरें और भी हैं...