comScore

मप्र: सहकारिता मंत्री भदौरिया कोरोना पॉजिटिव, शिवराज कैबिनेट बैठक में हुए थे शामिल

मप्र: सहकारिता मंत्री भदौरिया कोरोना पॉजिटिव, शिवराज कैबिनेट बैठक में हुए थे शामिल

हाईलाइट

  • मंत्री की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद से मंत्रालय में हड़कंप
  • सीएम शिवराज की अध्यक्षता में हुई मीटिंग में भी हुए थे शामिल

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश कैबिनेट के मंत्री की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद मंत्रालय में हड़कंप मच गया है। जानकारी के मुताबिक, राज्य के सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया कोरोना संक्रमित हो गए हैं। बुधवार देर रात उन्हें भोपाल के चिरायु अस्पताल में भर्ती कराया गया। मंत्री भदौरिया कल शिवराज कैबिनेट की बैठक में मौजूद थे। इससे पहले मंगलवार को वह राज्यपाल लालजी टंडन के अंतिम संस्कार में भी शामिल हुए थे।

Corona in India: देश में पहली बार 24 घंटे में सामने आए 45,720 नए केस, संक्रमितों की संख्या 12 लाख के पार

सहकारिता मंत्री भदौरिया ने खुद एक वीडियो सोशल मीडिया पर जारी किया है जिसमें उन्होंने कहा है कि, उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है लेकिन अभी वह पूरी तरह स्वस्थ हैं। भदौरिया ने अपने संपर्क में आए सभी लोगों से कोरोना टेस्ट कराने की अपील की है।

सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया बीते कुछ दिनों के दौरान नेता और अधिकारियों के अलावा अपने क्षेत्र के कार्यकर्ताओं के संपर्क में भी रहे हैं। अब मंत्री के संपर्क में आए सभी लोगों को कोरोना का डर सताने लगा है। हालांकि, मंत्री के परिवार के सदस्यों की रिपोर्ट निगेटिव आई है।

भोपाल में 25 जुलाई की सुबह से दोबारा टोटल लॉकडाउन 
गौरतलब है कि, कोरोना वायरस महमारी के कारण मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में 25 जुलाई से 3 अगस्त तक टोटल लॉकडाउन की घोषणा की गई है। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बुधवार (22 जुलाई) शाम मीडिया को दिए बयान में कहा था, भोपाल में 24 जुलाई की रात 8 बजे से यानि 25 जुलाई की सुबह से लेकर 2 अगस्त तक के लिए 10 दिन लॉकडाउन लागू करने का फैसला लिया गया है। मध्यप्रदेश की राजधानी में कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए ये फैसला लिया गया है।

एक दिन में सबसे ज्यादा संक्रमित मरीज मिले
बता दें कि, बुधवार को भोपाल में एक दिन में रिकॉर्ड सबसे ज्यादा 196 संक्रमित मरीज मिले। मंगलवार को छोड़ दिया जाए तो ये लगातार सातवां दिन था, जब राजधानी में 100 ज्यादा केस मिले। बुधवार को 54 मरीज ठीक भी हुए। कोरोना संक्रमण से 143 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं अब तक 3249 लोग ठीक होकर घर लौट चुके हैं। कुल एक्टिव केस बढ़कर 1430 हो गए हैं। संक्रमण बढ़ने के बाद भोपाल के अवधपुरी थाना क्षेत्र की 6 कॉलोनियों में 23 जुलाई को सुबह 8 बजे से 29 जुलाई की शाम 8 बजे तक पूर्ण लॉकडाउन कर दिया गया। इन छह कालोनियों को मिलाकर अब राजधानी में 31 इलाके पूरी तरह से लॉक कर दिए गए हैं। 

कमेंट करें
Mhw7P