दैनिक भास्कर हिंदी: खतरनाक साजिश: ट्रेक पर पत्थर रखकर मालगाड़ी को गिराने का प्रयास

April 8th, 2019

डिजिटल डेस्क, उमरिया। कटनी से महरोई अमरपुर होकर सिंगरौली रेल ट्रैक में रविवार सोमवार की दरमियानी रात बड़ा हादसा टल गया। अज्ञात तत्वों ने ट्रैक पर बोल्डर रखकर मालगाड़ी को गिराने का प्रयास किया गया। सजग चालक ने समय रहते ट्रेन में ब्रेक लगा दिया, जिससे बड़ा हादसा टल गया।

जानकारी के अनुसार कटनी से महरोई अमरपुर होकर सिंगरौली रेल ट्रैक में रविवार सोमवार की दरमियानी रात अज्ञात लोगों द्वारा महरोई रेलवे स्टेशन समीप वीरान एरिया में ट्रैक पर पत्थर रख दिए। अंधेरे में जैसे ही मालगाड़ी यहां से गुजरी, रन ओवर से इंजन के अगले हिस्सों को नुकसान पहुंचा और ट्रेन वहीं रूक गई। सूत्र बताते हैं इंजन घटना में इंजन का अगला हिस्सा (लोहे की जाली) मुड़ गई। ज्ञात हो कि घटना स्थल समीप ही भदार नदी पुल है।

अमरपुर के पास भदार नदी पुल के पहले रेल ट्रैक से मालगाड़ी निकल रही थी। कटनी से सिंगरौली जा रही ट्रेन रविवार शाम 5.45 बजे पोल क्रमांक 1141/1 तथा 1141/2 के बीच जैसे ही पहुंची, दो पटरी के बीच में मील का बड़ा पत्थर रखा हुआ था। जब ट्रेन वहां से गुजरी तेज आवाज के साथ इंजन बैठ गया। इंजन के सामने सुरक्षा के लिए लगी लोहे की जालियां मुड़ गईं। गनीमत रही कि इसके अलावा इंजन व अन्य रैक को कोई नुकसान नहीं हुआ। लोकोपायलट ने इसकी सूचना पास स्थानीय रेलवे अधिकारियों को दी। मौका निरीक्षण के बाद लाइन क्लियर होने पर रेलगाड़ी को आगे बढ़ाया गया। सूचना पर आरपीएफ व जीआरपी ने आसपास जांच की लेकिन आरोपियों का कहीं पता नहीं चला।

रेलवे की खुली पोल
रेल ट्रैक पर रखा पत्थर आकार में काफी बड़ा था। नुकसान का आंकलन इसी बात से लगाया जा सकता है कि ट्रेन का इंजन ही तेज आवाज के साथ बैठ गया। घटना के बाद मध्य रेलवे जबलपुर के इस सेक्शन में इंजीनियर व निरीक्षण टीम की लापरवाही भी उजागर होती है। बता दें कि प्रतिदिन रेलवे ट्रैक को निरीक्षण के लिए पेट्रोलिंग पार्टी गठित है। सेक्शन इंजीनियर की देखरेख में पीब्ल्यूआई, आयोडब्ल्यू के लोग इस पर नजर रखते हैं।

महरोई-सिंगरौली रेल ट्रैक किनारे मिला तेंदुए का शव
वहीं कटनी से महरोई अमरपुर सिंगरौली रेल ट्रैक में रविवार-सोमवार की दरमियानी रात एक तेंदुआ ट्रेन की चपेट में आ गया। रेल इंजन से लगी तेज टक्कर से वन्यप्राणी की मौके पर ही मौत हो गई। रात को हुई इस घटना की सूचना स्थानीय वन अमले को दे दी गई। हालांकि काफी देर तक सोमवार सुबह वन्यप्राणी का शव मौके पर लावारिश पड़ा रहा। यह इलाका बांधवगढ़ टाईगर रिजर्व के पनपथा बफर वन्यसीमा में आता है। घटना की खबर आसपास के गांव में फैलते ही मौके पर लोगों का हुजूम लगा रहा। घटना की पुष्टि स्थानीय अमरपुर गांव के सरपंच ने की है।

इनका कहना है
रेलवे के अधिकारियों द्वारा घटना की सूचना दी है। हमने मामले की गंभीरता को देखते हुए एफआईआर कर दी है।
सचिन शर्मा, पुलिस अधीक्षक उमरिया