दैनिक भास्कर हिंदी: नेताओं के होर्डिंग- कलेक्टर के निर्देश के तीसरे दिन कार्रवाई के नाम पर नगर निगम ने की खानापूर्ति

November 7th, 2019

डिजिटल डेस्क  कटनी । मध्यप्रदेश आउटडोर विज्ञापन मीडिया नियम-2017 होने के बाद जहां प्रदेश के नगरीय निकायों में अवैध होर्डिंग, बैनर हटाने की कार्यवाही युद्ध स्तर पर चल रही है वहीं कटनी नगर निगम में कागजों में ड्यूटी लगाकर खानापूर्ति की जा रही है।  बुधवार को नगर निगम का अमला जेसीबी लेकर होर्डिंग, बैनर हटाने निकला तो लेकिन केवल व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को निशाना बनाया। नेताओं के होर्डिंग पहले की तरह लगे प्रशासन को चुनौती दे रहे हैं। नेताओं के होर्डिंग, बैनर देख नगर निगम के अमले की हाथ-पैर कांपने लगते हैं। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बिना अनुमति लगने वाले होर्डिंग, बैनर एक सप्ताह के भीतर हटाने के निर्देश दिए हैं। सीएम के निर्देश के पांचवें दिन नगर निगम में टीम बनी और छठवें दिन औपचारिकता निभाई गई।  कलेक्टर ने दो दिन पहले ही शहरी क्षेत्रों से अवैध होर्डिंग, पोस्टर, बैनर हटाने के आदेश जारी किए थे। शहर के चौराहों, तिराहों एवं सड़कों के किनारे लगे अवैध होर्डिंग, बैनर नगर निगम के कर्ताधर्ताओं की कारगुजारी का बखान कर रहे हैं।
तीन जोन बनाकर गठित किए दल
नगर निगम सीमांतर्गत अवैध रूप से लगे विज्ञापन होर्डिंग्स पर  कार्यवाही करने निगमायुक्त आर.पी. सिंह ने किया जोनवार दलों का गठन किया है। निगमायुक्त ने नगर पालिक निगम कटनी के समस्त 45 वार्डों को तीन जोन क्रमश: वार्ड क्रमांक 1 से 15, वार्ड क्रमांक 16 से 30 एवं वार्ड क्रमांक 31 से 45 में विभाजित कर प्रत्येक जोन में आठ-आठ कर्मचारियों एवं पांच-पांच सफाई मित्रों की ड्यूटी लगाई जाकर दलों का गठन किया है। गठित दल के कर्मचारियों को जागेन्द्र सिंह सहायक यंत्री एवं जागेश्वर प्रसाद पाठक प्रभारी अधिकारी प्रभारी बाजार शाखा के मार्गदर्शन में कार्य करने तथा आदेश का पालन करने निर्देशित किया है।
स्टेशन रोड तक सिमटी कार्यवाही
नगर निगम कमिश्नर ने होर्डिंग, बैनर हटाने भलेशहर को तीन जोन में इसीलिए विभाजित किया है ताकि एक साथ सभी जगह कार्यवाही हो।  बुधवार को केवल सुभाष चौक से स्टेशन तिराहा तक दुकानों में लगे होर्डिंग, बैनर हटाए गए। मिशन चौक में नेता का होर्डिंग नगर निगम के अमले का इंतजार कर रहा है। इसी तरह बरगवां, गर्ग चौराहा, बस स्टैंड सहित शहर के अनके स्थानों में सड़कों के किनारे लगे होर्डिंग, बैनर पहले की तरह की खड़े हैं। ऐसे होर्डिंग, बैनर प्राथमिकता के तौर पर हटाए जाना है जो यातायात में अवरोधक बने हैं।
तीन दिन का दिया अल्टीमेटम
होर्डिंग, बैनर हटाने की कार्यवाही बुधवार से प्रारंभ कर दी गई है। यह कार्यवाही सतत रूप से जारी रहेगी, साथ ही सभी लोगों को तीन दिन के भीतर होर्डिंग, बैनर आदि हटाने का अल्टीमेटम दिया गया है।
- शैलेन्द्र शुक्ला, प्रभारी निगमायुक्त