दैनिक भास्कर हिंदी: नवरात्र पर मुस्लिम बनाते हैं देवीजी का पण्डाल, मोहर्रम में हिन्दू बांटते हैं लंगर

October 23rd, 2020

हिन्दू मुस्लिम साम्प्रदायिक सौहृार्द की मिशाल है पीपल चौक नौरोजाबाद -तीन दशकों से एकता की खुशबू घोल रहा युवाओं का दल
डिजिटल डेस्क उमरिया।
आज जहां कुछ लोग मजहब के नाम अपनी-अपनी राजनीति की रोटियां सेकने में लगे हैं वहीं नौरोजाबाद का पीपल चौक हिन्दू मुस्लिम एकता की नायाब मिसाल पेश कर रहा है। हर साल नवरात्र में मुस्लिम युवा पण्डाल से लेकर प्रसाद वितरण, झांकी में सहयोग करते हैं। ईद व मोहर्रम के समय में हिन्दू समाज के लोग श्रद्धालुओं को लंगर वितरण से लेकर रख-रखाव का इंतजाम करते हैं।
नौरोजाबाद उमरिया जिले का शहरी क्षेत्र है। पीपल चौक दुर्गा उत्सव कमेटी पिछले कई दशकों से यहां प्रतिमा स्थापित करती रही है। प्रबंध समिति में हिन्दू समाज के साथ ही मुस्लिम युवा भी पूरी तन्मयता के साथ सहभागिता निभाते हंै। दुर्गा प्रतिमा के चयन से लेकर पण्डाल की सजावट, प्रतिदिन प्रसाद वितरण का काम रइसउद्दीन बेग उर्फ भल्लू भाई की टीम देखती है। 10-12 लोग अन्य साथियों के साथ मिलकर विसर्जन तक पूरा काम करते हैं। हाल ही में पिछले तीन साल से कमेटी को सर्वश्रेष्ठ झांकी का पुरस्कार भी मिला है। इस तरह ये लोग तकरीबन 20 साल से नई पीढ़ी को कौमी एकता का संदेश दे रहे हैं। इसी तरह अध्यक्ष संजय अग्रवाल व उनके साथी मोहर्रम में मिलकर काम करते हैं।
दिनरात जुटती है पूरी टीम
सामाजिक सद्भाव की अहम कड़ी रइसउद्दीन बेग उर्फ भल्लू भाई हैं। पण्डाल के समीप ही उनकी पान ठेला की छोटी सी दुकान हैं। सरल व सादगी स्वभाव वाले भल्लू सर्प पकडऩे से लेकर मृत्यु उपरांत अंतिम संस्कार में सहयोग के लिए आगे रहते हैं। वे बताते हैं तकरीबन 20 वर्ष से अधिक समय बीत गया तब से वे धार्मिक कार्य में अपना सहयोग देते हैं। उनके साथ पूरी टीम एजाज(नीतू),  सोभी, लल्लू, सलमान, भज्जू, जानू, एजाज भाई, मुन्नू, मिंटू व अन्य जागरुक युवा शामिल हैं। ये लोग दिन-रात पण्डाल सजावट, प्रसाद व झांकी सहित विसर्जन में शामिल रहते हैं।
.. और लंगर की जिम्मेदारी इनकी
आपसी प्रेम व सामाजिक समन्यक का यह नजारा मुस्लिम पर्व में भी देखने को मिलता है। कमेटी के लोग हर वर्ष मोहर्रम में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेते हैं। 10 साल अध्यक्ष रहे 58 वर्षीय दुर्गा कमेटी के संरक्षण जेपी पण्डा बताते हैं वे जब 11-12 साल के थे तब से यह परंपरा है। पीपल चौक में ताजियादारों की अगुवानी, लोगों के खानपान की व्यवस्था मदनमोहन सिंह, भगतराम जगवानी अन्य समुदाय के साथ मिलकर करते हैं। इनकी टीम से सुशील, सुदर्शन, झाला पटेल, मदन पटेल, जयप्रकाश पाण्डेय, विध्नेश गौतम सहित अन्य लोग मिलकर लंगर व आसपास साफ-सफाई, सजावट आदि में भूमिका निभाते हैं।
इनका कहना है -
शुरू से लेकर आखिरी समय तक तक पण्डाल, सजावट व भण्डारे में सभी मिलकर काम करते हैं। फिर एक साथ बैठकर खाते भी हैं। यह सद्भावना का काम बीसों साल से चल रहा है। एक दूसरे के कार्यक्रमों में सहयोग का यह सिलसिला शादी, ब्याह से लेकर धार्मिक आयोजन ईद, मोहर्रम में जारी रहता है। यह एक मिशाल है नौरोजाबाद में।
संजय अग्रवाल, अध्यक्ष दुर्गा कमेटी
*आस्था हम घर में होती है। ऐसे कार्यों में सभी को जात-पात से उठकर धर्मानुसार एक दूसरे की मदद करनी चाहिए। हम सभी लोगों को यही संदेश देना चाहते हैं।
रइसउद्दीन बेग उर्फ भल्लू कमेटी सदस्य
 

खबरें और भी हैं...