comScore

बाघ एवं तेंदुआ की खाल समेत पांच आरोपी धराए, अंतर्राष्ट्रीय कीमत 25 लाख रुपए

July 16th, 2018 14:15 IST
बाघ एवं तेंदुआ की खाल समेत पांच आरोपी धराए, अंतर्राष्ट्रीय कीमत 25 लाख रुपए

डिजिटल डेस्क, बालाघाट। बालाघाट जिले की मलाजखण्ड पुलिस ने बाघ एवं तेंदुआ की खाल समेत पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। घटना के संबंध में पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार मुखबिर ने सूचना दी थी कि कुछ लोग बाकीगुडा मंदिर के रोड पर स्थित पुल के पास वन्य प्राणी का शिकार कर उसकी खाल बेचने की फिराक मे घूम रहे हैं।

सूचना पर प्रभारी मलाजखण्ड उपनिरीक्षक मनीष सोनी को कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया। उपनिरीक्षक द्वारा दो टीम गठित कर बताए जगह पर दबिश दी गई। बाकीगुडा मंदिर रोड पर स्थित पुल के पास पांच व्यक्ति खड़े दिखे जिनमे से तीन व्यक्ति मोटरसाइकिल पर बैठकर कहीं निकलने की तैयारी में थे। उनके पास एक प्लास्टिक का बोरा था और दो अन्य व्यक्ति के पास में ही खड़े थे, जिनके हाथ मे भी प्लास्टिक के बोरे थे। सभी लोग पुलिस को देखकर भागने लगे, जिन्हें पुलिस टीम द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा गया।

आरोपियों के पास मिले बोरो में रखे सामान के बारे में पूछताछ की गई तो वे घबराने लगे। चेक करने पर एक बोरे मे शेर की खाल और दूसरे बोरे में तेंदुआ की खाली मिली साथ ही एक के पास तलाशी लेने पर बोरे में जंगली बिल्ली की खाल मिली। सभी के नाम पूछने पर एक दूसरे को जानना-पहचानना और खाल बेचने के उद्देश्य से इस ओर आना बताया। जब्त की गई खाल की अंतर्राष्ट्रीय कीमत लगभग 25 लाख रूपए है।

आरोपियो में ये शामिल
पुलिस द्वारा पकड़े गए आरोपियो में वीरेन्द्र उर्फ बिरजू पुर्राम पिता जयपाल सिंह 30 वर्ष निवासी मानसिंह टोला मोहगांव डोरा रूपझर, सुरजीतराम पिता धीरपाल सिंह पंद्रे 45 वर्ष निवासी खुड्डीपार डोरा रूपझर, सालिकराम पिता उदेसिंह उयके 50 वर्ष निवासी नारंगी चौक उकवा थाना रूपझर, संतोष भलावी पिता बुंदलसिंह भलावी 32 वर्ष निवासी केशा डोरा थाना रूपझर तथा हीरालाल उर्फ हीरासिंह पिता दयालसिंह मरावी 50 वर्ष निवासी वनग्राम कांदूल उकवा थाना रूपझर जिला बालाघाट शामिल है। सभी आरोपी के विरूध्द वन्य प्राणी अधिनियम 1972 की धारा 9, 39, 44,49 बी एक 51,52 एवं 34 भादवि का अपराध पाए जाने पर थाना मलाजखण्ड में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया है।

इनका रहा सहयोग
आरोपियो को पकड़ने में अति.पुलिस अधीक्षक बालाघाट अति. पुलिस अधीक्षक बैहर, एसडीओपी बैहर, प्रभारी मलाजखण्ड मनीष सोनी, अयूब खान, प्र.आर.इमरान खान, आरक्षक धानेश्वर टेकाम, आरक्षक तोपेन्द्र कावरे, आर. राम बेलवंशी, आर. कपीलेश, आर. विनोद यादव का सराहनीय सहयोग रहा।

कमेंट करें
R9fcW