दैनिक भास्कर हिंदी: हैवान था एसएएफ का जवान - 5 वर्ष की मासूम से दुष्कृत्य का मामला 

June 27th, 2019

डिजिटल डेस्क, नरसिंहपुर । 24-25 जून की दरमियानी रात पांच साल की बच्ची से हुए दुष्कर्म के आरोपी एसएएफ बटालियन के कुक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एसपी के मुताबिक आरोपी का नाम संतोष मरकाम निवासी बीजा डांडी मंडला है। वह एक साल से एसएएफ छटवीं बटालियन में कुक है और नरसिंहपुर में ही पदस्थ है। पुलिस ने आरोपी भादंवि की धारा 363, 366ए, 376-3, 376-एबी, 323, 324 एवं पाक्सो एक्ट की धारा 3-1, 4, 5,-2एम एवं 6 के तहत प्रकरण दर्ज कर विवेचना में लिया। आरोपी को गिरफ्तार कर गुरूवार को दोपहर में न्यायालय पेश किया उसके बाद जेल भेजा गया है। 

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के ड्रायवर ने पहचान की आरोपी की 

मामले के संबंध में पुलिस अधीक्षक डाक्टर गुरकरन सिंह ने पुलिस कंट्रोल रूम में पत्रकारों से चर्चा कर जानकारी दी। उन्होंने बताया कि सीसीटवी कैमरों से मिले फुटेज के आधार पर आरोपी की पतासाजी की गई है। आरोपी की शिनाख्त सबसे पहले अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश तिवारी के ड्रायवर राजकुमार व गनमैन विक्रम जाट ने की। इसी आधार पर पुलिस लाइन से संदेही के तौर पर कुक को पूछताछ के लिए पकड़ा गया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मासूम बालिका खतरे से बाहर है तथा उसे अभी भर्ती रखकर उपचार किया जा रहा है। 

बच्ची का उसकी झोपड़ी से अपहरण करके ले गया

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पहले तो वह अनभिज्ञता जाहिर करता रहा लेकिन बाद मेें सारे सबूत मिलने पर स्वीकार किया कि वारदात की रात आरोपी बच्ची का उसकी झोपड़ी से अपहरण करके ले गया था। इसके बाद पीडि़ता को खून से लथपथ हालत में 25 जून की सुबह अंडर ब्रिज के पास एक पेड़ के नीचे छोड़कर भाग गया। गिरफ्तारी के बाद घटना स्थल के पास से ही उसका गमछा सहित भौतिक साक्ष्यों को जब्त किया गया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आरोपी की पतासाजी के लिए 10 टीमों का गठन किया गया था, जिनके माध्यम से सघन जांच कर आरोपी को 48 घंटे के अंदर गिरफ्तार किया गया। 

युवाओं में दिखा गुस्सा 

आरोपी की गिरफ्तारी की जानकारी लगने के बाद न्यायालय सहित विभिन्न स्थानों पर नगर के युवा अपना गुस्सा जाहिर करने पहुंचे। पुलिस कंट्रोल रूम से जेल ले जाने के दौरान युवकों ने पुलिस के वाहन को घेरकर आरोपी से झूमाझटकी की किसी तरह उसे वहां से ले जाकर जेल में दाखिल किया गया।