comScore

लापरवाही बरतने पर कार्यपालन यंत्री पीडब्ल्यूडी को कारण बताओ नोटिस जारी होगा कलेक्टर श्री कार्तिकेयन ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में की विभागीय कार्यों की समीक्षा

July 22nd, 2020 15:23 IST
लापरवाही बरतने पर कार्यपालन यंत्री पीडब्ल्यूडी को कारण बताओ नोटिस जारी होगा कलेक्टर श्री कार्तिकेयन ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में की विभागीय कार्यों की समीक्षा

डिजिटल डेस्क, डिंडोरी। कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने जिले में पहुंचे प्रवासी श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने में लापरवाही बरतने पर कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग को कारण बताओ नोटिस जारी करने को कहा है। लोक निर्माण विभाग द्वारा 252 प्रवासी श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के लक्ष्य के विरूद्ध 25 की प्राप्ति हुई है। कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग का एक सप्ताह का वेतन भी काटा जायेगा। कलेक्टर सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में रोजगार सेतु पोर्टल में प्रवासी श्रमिको को रोजगार उपलब्ध कराने की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी, अपर कलेक्टर, एसडीएम डिंडौरी, एसडीएम शहपुरा, सहायक कलेक्टर, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला समन्वयक सर्वशिक्षा अभियान, कार्यपालन यंत्री लोनिवि, कार्यपालन यंत्री पीआईयू, कार्यपालन यंत्री आरईएस, उप संचालक कृषि सहित जिला एवं जनपद स्तरीय अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे। कलेक्टर ने गरीब कल्याण रोजगार कार्यक्रम की भी समीक्षा की। उन्होंने प्रवासी श्रमिकों को नियमित रूप से रोजगार उपलब्ध कराने को कहा। ग्राम पंचायतों में अधिक से अधिक कार्य प्रारंभ करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने बीएसएनएल के कर्मचारियों को ग्राम पंचायतों में वाईफाई एवं हॉट्स्पॉट कनेक्षन लगाने को कहा। बीएसएनएल के कर्मचारियों के द्वारा 85 लक्ष्य के विरूद्ध 9 की लक्ष्य प्राप्ति हुई है। कलेक्टर ने बीएसएनएल के कर्मचारियों की इस प्रकार की कार्यप्रणाली को गंभीरता से लेते हुए निर्धारित लक्ष्य को शीघ्र ही पूरा करने को कहा है। जल जीवन मिशन का संकल्प है कि सभी के घरो में शुद्ध व स्वच्छ जल पहुंचाया जायेगा। पीएचई विभाग के द्वारा इस योजना के अंतर्गत सभी इलाकों के घरों में शुद्ध व स्वच्छ जल पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। कलेक्टर ने जल जीवन मिशन की समीक्षा की। कार्यपालन यंत्री पीएचई ने बताया कि जल जीवन मिशन के अंतर्गत 16 लक्ष्य प्राप्ति के विरूद्ध 8 कार्य प्रगति पर है। कलेक्टर ने जल जीवन मिशन के लक्ष्य को निर्धारित समय में पूरा करने को कहा है। उपसंचालक और सहायक संचालक कृषि को नोटिस जारी होगा:- कलेक्टर श्री कार्तिकेयन ने उप संचालक कृषि डिंडौरी को कारण बताओ नोटिस जारी करने को कहा है। उप संचालक कृषि को उक्त नोटिस विभागीय कार्यों में लापरवाही बरतने के कारण दिया जा रहा है। इसी प्रकार से अपने दायित्वों के निर्वहन में लापरवाही बरतने पर सहायक संचालक कृषि मेंहदवानी को भी नोटिस जारी किया जायेगा। कलेक्टर ने इस दौरान किसानों को वितरित किये गए बीज के बारे में जानकारी ली। लाभांवित किसानों की सूची प्रस्तुत करने को कहा। किसानों के लिए खाद या उर्वरक की उपलब्धता में पूछा गया। कृषि विज्ञान केन्द्र के द्वारा डिंडौरी के किसानों को उन्नत किस्म की फसल तैयार करने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जिससे किसान कम लागत पर अधिक मुनाफा कमा सकें। इस अवसर पर बताया गया कि 15 एवं 17 जुलाई को ग्राम चटुवा में मशरूम तथा ग्राम नरिया में मिट्टी परीक्षण का प्रशिक्षण दिया गया। कलेक्टर ने कहा कि किसानों को प्रशिक्षण देने के लिए हितग्राही एवं स्थल चयन के लिए एनआरएलएम, तेजस्विनी, कृषि विभाग और जनपद स्तरीय अधिकारियों से संपर्क करें, जिससे पात्रताधारी किसानों का चयन कर उन्हें प्रशिक्षण दिया जा सके। कलेक्टर ने राजस्व प्रकरणों की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि बंटवारा, नामांतरण, सीमांकन, जैसे प्रकरणों का तत्परता से निरारकण करें। कलेक्टर ने इसके बाद स्कूलों में ऑनलाईन पढाई, विद्यार्थियों का प्रवेश, गणवेश, पाठ्य-पुस्तकों के संबंध में समीक्षा की। उन्होंने कहा कि जिले में पहुंचे प्रवासी श्रमिकों के बच्चों को अनिवार्य रूप से स्कूलों में प्रवेश दिया जाए। कलेक्टर ने इसके बाद सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों का निराकरण लेवल-1 एवं लेवल-2 पर संतुष्टिपूर्वक दर्ज करें।

कमेंट करें
J4H8P