comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

राज्य सरकार 30 दिन में व्यवसाय शुरू करने की अनुमति देने प्रतिबद्ध

January 29th, 2021 16:32 IST
राज्य सरकार 30 दिन में व्यवसाय शुरू करने की अनुमति देने प्रतिबद्ध

डिजिटल डेस्क, रायसेन। मध्यप्रदेश सरकार ने राज्य में किसी भी उद्यम को शुरू करने के लिए 30 दिन की समय- सीमा निर्धारित की है और लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत इसके पालन को सुनिश्चित किया जा रहा है। सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा ने यह बात अंतर्राष्ट्रीय वेबिनार में कही। बेविनार में सांसद श्री बी.डी. शर्मा भी शामिल हुए। मध्यप्रदेश में प्रवासी निवेश और व्यापार सुगमता विषय पर हुए वेबिनार में कनाडा, नार्वे, ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका सहित करीब 15 से अधिक देशों के भारतवंशी उद्यमियों ने भागीदारी की। मंत्री श्री सखलेचा ने निवेश को दिए जा रहे प्रोत्साहन के बारे में विस्तार से चर्चा की। उन्होंने कहा कि हमने यह सुनिश्चित किया है कि यदि कोई उद्यमी प्रदेश में काम शुरू करना चाहता है तो उसे30 दिन के अंदर सभी आवश्यक सुविधाएँ उपलब्ध कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान के आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश के लक्ष्य को पूरा करने में इसकी अहम भूमिका है। श्री सखलेचा ने कहा कि प्रदेश में अलग-अलग उद्योग क्लस्टर बनाए जा रहे हैं। इससे स्थानीय स्तर पर श्रम और कच्चे माल की उपलब्धता का बेहतर तरीके से दोहन हो सकेगा और उद्योगों को लगात घटाने में मदद मिलेगी। 20 जिलों में 20 क्लस्टर बनाए गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के 52 में से 42 जिलों में अलग अलग उद्योगों की पहचान की गई है, इनमें नमकीन और फर्नीचर से लेकर यार्न तक के क्षेत्र में क्लस्टर बनाने का काम चल रहा है। श्री सकलेचा ने कहा कि चीन की तुलना में हमारे यहां उत्पादन की लागत काफी ज्याद होने के कारण ऐसे प्रयास किए जा रहे हैं कि इसे कम से कम 25 प्रतिशत तक घटाया जा सके। उन्होंने कहा कि लघु उद्योग निगम को विदेशों में विस्तार दिया जा रहा है ताकि विपणन और तकनीक पर मुख्य फोकस किया जा सके। रोजगार और पूंजी जुटाना सरकार का अंतिम लक्ष्य है। साल 2021-22 उद्यमिता के लिहाज से स्वर्णिम काल साबित होगा क्योंकि चीन विनिर्माण परिदृश्य से बाहर हो रहा है। उन्होंने बहु-कौशल वाले श्रमिक, बेहतर गुणवत्ता वाली सेवाएँ और कच्चे माल की उपलब्धता का उल्लेख करते हुए कहा कि भारत एक विनिर्माण हब बनने में सक्षम है। खजुराहो लोकसभा क्षेत्र के सांसद श्री वीडी शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने आत्म-निर्भर भारत का लक्ष्य दिया है और मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश का सपना हमें दिखाया है। उन्होंने निवेशकों से प्रदेश में निवेश करने का अनुरोध किया। श्री शर्मा ने बताया कि खजुराहो लोकसभा क्षेत्र को आइकोनिक सिटी के रूप में विकसित करने का प्रयास किया जा रहा है। म.प्र. राज्य औद्योगिक विकास निगम के प्रबंध निदेशक श्री विवेक पोरवाल ने संक्षिप्त प्रस्तुति में मध्यप्रदेश सरकार की योजनाओं पर प्रकाश डाला। इलेक्ट्रॉनिक डवलपमेंट कार्पोरेशन के एमडी श्री नंद कुमारम ने भी प्रस्तुतिकरण दिया। वेबिनार का आयोजन म.प्र. सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग, पीपल ऑफ इंडियन ओरिजिन चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री और इन्वेस्ट इंडिया के संयुक्त तत्वावधान में किया गया। कार्यक्रम के अंत में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री श्री ओमप्रकाश सखलेचा ने वेबिनार में शामिल हुए व्यक्तियों के सवालों के जवाब दिए और सुझाव भी सुने।

कमेंट करें
BNyDi