दैनिक भास्कर हिंदी: मांस लेकर जा रहे चीन के 3 इंजीनियर नागपुर में गिरफ्तार, अजनी में सैक्स रैकेट का भांडाफोड़

February 2nd, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। खापा पुलिस ने जानवरों का मांस लेकर आ रहे चीन के 3 आरोपियों सहित 5 लोगों को धरदबाेचा। गिरफ्तार आरोपियों में अफरोज शेख मोहम्मद शेख (29) बाजार चौक खापा, देवेंद्र लालपी नगराले (31) निमगाव, धानोरा, गडचिरोली, ली च्यो चंग (55), ल्यु वेंग चंग (51) और ल्यु व्होंग कोंग, (53) अन व्हय व्हय बाई सै चीन निवासी है। इनसे करीब 10 किलो मांस जब्त की गई। पुलिस ने इन्हें अदालत में पेश किया। ली च्यो चंग की तबीयत खराब होने पर उसे मेयो अस्पताल में भर्ती किया गया है। इस आरोपी को ह्रदय की बीमारी है। शेष सभी आरोपियों को न्यायिक हिरासत के तहत जेल भेज दिया गया है। पुलिस ने वाहन व मांस को जब्त किया। सैंपल लेकर प्रयोगशाला में जांच के लिए भेजा गया है।

चीन के यह तीनों आरोपी चायना कोल कंपनी के कर्मचारी हैं। वह गुमगांव स्थित मॉयल के खदान में कार्यरत हैं। उन्होंने बताया कि भारत और चीन के बीच संयुक्त करार के अंतर्गत स्थापित हुई चायना कोल इंडिया प्रा. लि. में तीनों चीनी आरोपियों टेक्नीशियन के रूप में कार्य करते थे। मैग्नीज का उत्पादन अधिक कैसे हो सकता है, इसके लिए तीनों चीनी नागरिक कार्य कर रहे हैं। इस प्रकरण की जांच उपनिरीक्षक गोपीचंद नेरकर कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि तीनों आरोपियों को शुक्रवार को गिरफ्तार करने के बाद सावनेर न्यायालय में पेश किया गया। न्यायालय के आदेश पर सभी आरोपियों को जेल भेज दिया गया।  

पुलिस सूत्रों के अनुसार, खापा थाने के अधिकारी जानूसिंग जाधव को गुप्त सूचना मिली की एक कंटेनर में जानवरों का बड़ी मात्रा में मांस आ रहा है। खापा पुलिस ने थाने के पास नाकाबंदी की। पुलिस को इस दौरान एक छोटा कार्गो वाहन (क्रमांक एम एच 40 बी ई- 9497) आता नजर आया। पुलिस ने उसे रोका। चालक अफरोज शेख ने वाहन रोक दिया। वाहन की तलाशी लेने पर जानवरों का मांस मिला। पुलिस ने वाहन में सवार अफरोज शेख मोहम्मद शेख,  देवेंद्र लालपी नगराले, ली च्यो चंग,  ल्यु वेंग चंग और  ल्यु व्होंग कोंग से पूछताछ की तो वह टालमटोल जवाब देने लगे। पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ धारा 5 (क) के तहत मामला दर्ज किया। 

अजनी में चल रहे देह व्यापार अड्डे पर छापा, 3 दलाल गिरफ्तार 
उधर अजनी थानांतर्गत एक मकान में चल रहे देह व्यापार अड्डे पर पुलिस ने छापा मारकर तीन दलालों को गिरफ्तार किया। वहीं तीन पीड़ित युवतियों को कमरे से मुक्त कराया गया। गिरफ्तार आरोपियों में सुजीतकुमार सत्यप्रसाद (29), दुर्गा उर्फ कविता गजानन जाधव (35)  रमना मारोति, नागपुर (दुर्गा मूलत: वर्धा के रामनगर की निवासी है) और सोनू गुलशन यादव (32) महाराणा काॅलोनी, अजनी निवासी शामिल है। आरोपी सुजीतकुमार इससे पहले भी देह व्यवसाय के मामले में गिरफ्तार किया जा चुका है।

पता चला है कि आरोपी सोनू यादव कमरा उपलब्ध करने में मदद करता था। नागपुर में आरोपी नागपुर एस्कार्ट सेल नामक वेबसाइट पर ग्राहकों से ऑनलाइन बातचीत करते थे। पुलिस के डर से ऑनलाइन ही युवतियों की तस्वीरें दिखाते थे। पसंद आने पर ग्राहकों को अपनी पसंदीदा जगह पर बुलाते थे। उसके बाद दुर्गा पसंद आई युवती को उनके साथ सोनू के पास लेकर जाती थी। सोनू कमरा उपलब्ध करने में मदद करता था। 
 

खबरें और भी हैं...