दैनिक भास्कर हिंदी: तेंदुए के हमले में बाघ के शावक की मौत

September 29th, 2017

डिजिटल डेस्क उमरिया । बांधवगढ़ टाईगर रिजर्व के धमोखर रेंज में शुक्रवार सुबह तेंदुए के हमले में बाघ शावक की मौत हो गई। मृत चार वर्षीय शावक बाघिन टी-43 का बताया गया है। धमोखर रेंजर व्हीएस श्रीवास्तव ने बताया सुबह तकरीबन 9.30 बजे बरतराई बीट के कक्ष क्रमांक 122 इलाके में हाथी से बाघिन व शावकों की गश्त चल रही थी। इसी दौरान झाडिय़ों के पीछे गुर्राने की आवाज आई। महावत ने जैसे ही झाडिय़ों की ओर रूख किया। तेंदुओं के जबड़े में एक शावक की गर्दन दबी हुई थी। हाथी को देखते ही तेंदुआ जंगल की ओर भाग गया। घटना की सूचना बीटीआर डायरेक्टर सहित वन्यप्राणी डॉक्टर को दी गई। जांच उपरांत शावक को मृत करार दिया गया। घटना के बाद से दो शावकों के साथ लापता बाघिन टी-43 को सर्च करने एक टीम जंगल में भेजी गई है। गौरतलब है कि बाघिन टी -43 ने मई माह में चार माह पूर्व तीन शावकों को जन्मा था। नवजात की सुरक्षा के लिए बाघिन के निशाने पर कई बार चरवाहे भी हो चुके थे। शावकों के साथ इंसानी सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए इलोक में धारा 144 लगानी पड़ी थी।
जादू टोना के शक पर हुई महिला की हत्या -मानपुर थाना के घघोड़ स्थित विधानसभा उपाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह के बाड़े में मृत महिला की मौत पर पुलिस ने मौके पर मिले सबूत व प्राथमिक जांच के आधार पर संदेही संतोष बैगा को पकड़कर पूछताछ की है। सूत्रों के मुताबिक आरोपियों द्वारा महिला को जादू टोना के शक पर मारा गया है। इसके पूर्व भी गांव में महिला के साथ जादू टोना की बात पर विवाद हो चुका है। हालांकि पुलिस इस संबंध में खुलकर अभी कुछ नहीं कह रही। एसपी डॉ. आसित ने बताया पृथम दृष्टया यह मामला हत्या का है। संभव है आरोपियों द्वारा रंजिशन वारदात अंजाम दी गई है। हत्या से जुड़े अहम सुराग मिले हैं। संभव है जल्द खुलासा किया जायेगा।
 सूक्ष्मता से जांच करते हुए दो डॉक्टरों की टीम ने शव का पीएम किया। डॉक्टरी परीक्षण में मृतिका के गर्दन व पीठ में गहरी चोट मिली है। धारदार हथियार से गर्दन में इंच लंबा व तीन इंच चौड़ा घाव है। इसी तरह पीठ में छह इंच चौड़ा तथा दो इंच लंबा तेज हथियार से शरीर कटा मिला है।