comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री श्री प्रहलाद सिंह पटेल ने वर्चुअल माध्यम से एबीटीओ अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का उद्घाटन किया

December 11th, 2020 16:19 IST
केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री श्री प्रहलाद सिंह पटेल ने वर्चुअल माध्यम से एबीटीओ अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का उद्घाटन किया

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पर्यटन मंत्रालय केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री प्रहलाद सिंह पटेल ने वर्चुअल माध्यम से एबीटीओ (एसोसिएशन ऑफ बौद्धिस्ट टू ऑपरेटर्स) अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का उद्घाटन किया केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) प्रहलाद सिंह पटेल ने आज नई दिल्ली में वर्चुअल माध्यम से एबीटीओ (एसोसिएशन ऑफ बुद्धिस्ट टूर ऑपरेटर्स) अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का उद्घाटन किया। बिहार के बोधगया में 10-12दिसंबर 2020तक तीन दिवसीय एबीटीओ सम्मेलन का पर्यटन मंत्रालय की साझेदारी में आयोजन किया जा रहा है। इस मौके पर अपने संबोधन में केंद्रीय मंत्री ने कहा कि देश में बौद्ध पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार विशेष प्रयास कर रही है। इस दिशा में बीते छह वर्षों में किए गए सरकारी उपायों पर रोशनी डालते हुए उन्होंने स्वदेश दर्शन योजना और प्रसाद योजना का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि बौद्ध स्थलों के विकास के लिए मंत्रालय ने स्वदेश दर्शन योजना के तहत 350करोड़ रुपये और प्रसाद योजना के तहत 900करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि मंजूरी की है। अन्य कदमों का उल्लेख करते हुए, मंत्री श्री पटेल ने कहा कि मध्य प्रदेश के सांची स्मारक में सिंहली भाषा में और श्रावस्ती व सारनाथ में चीनी भाषा में संकेतकों को लगाया गया है। मंत्री ने आगे कहा कि हमने तय किया है कि जहां कहीं भी किसी एक देश से आने वाले पर्यटकों की संख्या एक लाख से ज्यादा है, वहां पर उनकी सुविधा और सहूलियत के लिए उनकी भाषा में संकेतक लगाए जाएंगे. श्री पटेल ने यह भी कहा कि जैसे एएसआई (आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया) नए सिरे से स्मारकों की सूची बना रहा है और इससे आने वाले दिनों में, स्मारकों की संख्या काफी बढ़ सकती है। श्री पटेल ने आगे कहा कि सरकार सभी महत्वपूर्ण स्थानों पर पर्यटक को सही जानकारी देने के लिए पर्यटकों की मददकर्ताओं की सुविधा देने का प्रयास कर रही है। उन्होंने यह भी कहा कि सभी हितधारक अपनी सलाह और पर्यटन मंत्रालय के साथ काम करने में उन्हें आने वाली किसी भी दिक्कत के बारे में बताएं, हम उन्हें सुझाव के रूप में लेंगे और अपनी तरफ से उनका समाधान करने की पूरी कोशिश करेंगे। श्री पटेल ने यह भी कहा कि पर्यटन मंत्रालय देश में ठहरने की जगहों को मंत्रालय के पोर्टल नेशनल इंटीग्रेटेड डेटाबेस ऑफ़ हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री (निधि) में पंजीकृत करने का प्रयास कर रहा है। पोर्टल पर अब तक लगभग 32000आवासीय इकाइयों को पंजीकृत किया गया है जो इस वर्ष चालू था। पर्यटन से जुड़ी जानकारियां, जैसे कि पर्यटन स्थलों पर होटल व अन्य सुविधाओं का ब्यौरा, देने की प्रक्रिया जारी है। उन्होंने कहा कि यह पोर्टल टूर एंड ट्रेवल्स की भी जानकारी देगा। मंत्री ने टूर एंड ट्रेवल्स ऑपरेटर्स से इस विशेष पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराने की भी अपील की। 

कमेंट करें
cbS8C