दैनिक भास्कर हिंदी: कभी ये गैजेट्स थे हमारी जिंदगी का अहम हिस्सा, स्मार्टफोन ने कर दिया 'खत्म'

October 9th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। स्मार्टफोन के बिना आज हमारा हर काम अधूरा है। बिना स्मार्टफोन के लाइफ में एंजॉयमेंट की कल्पना कर पाना, आज के यंगस्टर्स के लिए काफी मुश्किल होगा। आजकल स्मार्टफोन हमारी जिंदगी का अहम हिस्सा बन चुका है। आज हर काम के लिए हम स्मार्टफोन की मदद लेते हैं। चाहे हमें टाइम देखना हो या फिर कुछ कैलकुलेट करना हो। यहां तक कि हम अपनी लाइफ के कई जरूरी काम भी स्मार्टफोन के जरिए ही करते हैं, लेकिन जब स्मार्टफोन नहीं होते तो क्या हमारे काम अटक जाते थे, नहीं न। उस समय भी हमारे सारे काम हुआ करते थे, बस फर्क इतना था कि हम इस वक्त स्मार्टफोन की बजाय दूसरे गैजेट्स का इस्तेमाल करते थे। स्मार्टफोन ने हमारे उन सभी पुराने गैजेट्स को खत्म कर दिया, जिनका इस्तेमाल हम पहले किया करते थे। आज हम आपको उन्हीं गैजेट्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जो स्मार्टफोन आने के बाद से हमारी लाइफ से गायब हो गए। 

1. कैमरा:

Image result for digital camera

पहले के जमाने में कैमरा हर घर में हुआ करता था। चाहे वो रील वाला ही क्यों न हो,  लेकिन स्मार्टफोन ने कैमरे को गायब कर दिया। स्मार्टफोन में कैमरा आने के बाद से लोगों के घरों से कैमरे को आउट कर दिया गया। इसके बाद से स्मार्टफोन के कैमरे में काफी सुधार हुआ, जिसकी वजह से आज कैमरा तो अब हमारी लाइफ में रहा ही नहीं है। 

2. MP3 प्लेयर्स: 

Image result for mp3 players

एक समय था, जब लोगों गाने सुनने के लिए MP3 प्लेयर्स का इस्तेमाल किया करते थे। बच्चों से लेकर यंगस्टर्स तक के पास इन MP3 प्लेयर्स को देखा जा सकता था। यहां तक कि स्कूली बच्चे भी अपने बैग में छिपाकर इन MP3 प्लेयर्स को ले जाया करते थे, लेकिन स्मार्टफोन ने इसे पूरी तरह से रिप्लेस कर दिया। अब लोग MP3 की बजाय स्मार्टफोन से ही गाने सुनना प्रीफर करते हैं। 

3. अलार्म क्लॉक: 

Image result for alarm clock in bed

पहले हर घर में बिस्तर के बगल में अलार्म क्लॉक देखने को मिल जाती थी। लोग अपने बिस्तर के बगल वाली टेबल पर अलार्म क्लॉक को सजा कर रखते थे। पहले के जमाने में रोज सुबह-सुबह यही तेजी से बजने वाली अलार्म क्लॉक लोगों को नींद से जगाती थी, लेकिन स्मार्टफोन ने इन्हें भी खत्म कर दिया। स्मार्टफोन के जमाने में लोग अलग से अलार्म क्लॉक का इस्तेमाल नहीं करते बल्कि फोन में ही अलार्म लगाते हैं। 

4. कैलकुलेटर: 

Image result for calculator

कैलकुलेटर का इस्तेमाल अब कम ही देखने को मिलता है। आजकल बड़ी-बड़ी दुकानों में ही कैलकुलेटर देखने को मिलता है, लेकिन एक टाइम था, जब कैलकुलेटर हर परिवार का हिस्सा हुआ करता था। लोग अपना सारा हिसाब-किताब रखने के लिए कैलकुलेटर ही यूज किया करते थे, लेकिन स्मार्टफोन में कैलकुलेटर आने से ये भी गायब सा हो गया। अब स्मार्टफोन में दिए कैलकुलेटर से ही सारा हिसाब-किताब रखा जाता है। 

5. रेडियो: 

Image result for radio

रेडियो में भले ही कुछ दिखाई न देता हो, लेकिन एक जमाने में रेडियो ही लोगों के मनोरंजन का साधन था। प्रधानमंत्री की स्पीच से लेकर क्रिकेट मैच तक लोग रेडियो पर ही सुना करते थे। इतना ही नहीं, सुबह-सुबह लोगों के घरों से रेडियो पर गाने चलने शुरू हो जाते थे। वैसे तो रेडियो फीचर फोन में आने शुरू हुए थे, लेकिन स्मार्टफोन में भी रेडियो को शामिल किया गया। फीचर फोन के बाद जैसे ही स्मार्टफोन का कल्चर बढ़ा तो रेडियो लोगों की लाइफ से बाहर ही हो गया।