comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

वैक्सीनेशन दूसरा फैज: एक मार्च से 60 साल से ऊपर के लोगों को नि:शुल्क लगेगी कोरोना की वैक्सीन

वैक्सीनेशन दूसरा फैज: एक मार्च से 60 साल से ऊपर के लोगों को नि:शुल्क लगेगी कोरोना की वैक्सीन

हाईलाइट

  • 1 मार्च से देश में वैक्सीनेशन का दूसरा चरण
  • 60 साल से अधिक उम्र वालों को लगेगा टीका

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बुधवार को बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने बताया कि देश में 1 मार्च से 60 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोगों और 45 वर्ष से अधिक उम्र के किसी बीमारी से पीड़ित लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगी। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक के बाद जावड़ेकर ने 16 जनवरी को भारत में शुरू होने वाले दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण को शुरू करने की घोषणा की। वैक्सीन 10 हजार सरकारी केंद्रों पर नि:शुल्क लगाई जाएगी। वहीं लगभग 20 हजार से ज्यादा निजी अस्पतालों में भी कोरोना की वैक्सीन दी जाएगी। हालांकि यहां वैक्सीन के लिए शुल्क देना होगा। शुल्क कितना होगा इसके बारे में स्वास्थ्य विभाग 2-3 दिन में घोषणा करेगा।
 
देश भर में अब तक 1.14 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगी
जावड़ेकर ने कहा कि नागरिकों के टीकाकरण की खातिर शुल्क तय करने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय, टीका निमार्ताओं और निजी अस्पतालों के साथ बातचीत कर रहा है। देश भर में अब तक 1.14 करोड़ लोगों को कोविड का टीका लगाया जा चुका है। हेल्थकेयर वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए टीकाकरण अभियान 16 जनवरी को शुरू किया गया था।

पिछले एक सप्ताह में 11 लाख से अधिक लोगों को कोविड के टीके लगाए गए
भारत के ड्रग रेगुलेटर ने 3 जनवरी को पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट द्वारा निर्मित ऑक्सफोर्ड कोविड-19 वैक्सीन कोविशिल्ड, और भारत बायोटेक के स्वदेशी रूप से विकसित कोवैक्सिन को आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी दी थी। पिछले एक सप्ताह में कोविड मामलों में बढ़ोत्तरी की खबरों के बीच 11 लाख से अधिक लोगों को कोविड के टीके लगाए गए हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, देश में बुधवार को पिछले 24 घंटों में 13,742 नए मामले सामने आए। कोविड के कुल मामलों की संख्या 1,10,30,176 हो गई है। पिछले 24 घंटे में बीमारी के कारण 104 मौतें हुईं। इसके साथ ही मरने वालों का आंकड़ा 1,56,567 तक पहुंच गया है।

कुल वैक्सीनेशन में भारत 5वें स्थान पर
दुनियाभर के कई देशों, खासकर चीन ने पिछले साल जून में और रूस ने तो अगस्त में वैक्सीनेशन शुरू कर दिया था। वहीं, अमेरिका, ब्रिटेन समेत ज्यादातर देशों में दिसंबर में वैक्सीन लगनी शुरू हुई। 22 फरवरी तक दुनियाभर में 21 करोड़ लोगों को वैक्सीनेट किया जा चुका है। सबसे ज्यादा अमेरिका में 6.41 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगी है। इसके बाद चीन में 4.05 करोड़, यूरोपीय संघ में 2.7 करोड़, यूके में 1.8 करोड़ और फिर भारत में 1.19 करोड़ लोगों को वैक्सीन लग चुकी है।


 

कमेंट करें
I6l9o